रोहित ने खोला राज, शतक लगाने के बाद भी क्यों नहीं मनाया जश्न

रोहित ने खोला राज, शतक लगाने के बाद भी क्यों नहीं मनाया जश्न

टेस्ट सीरीज के बाद चार वनडे में रनों के लिए तरसे रोहित शर्मा ने साउथ अफ्रीका के खिलाफ पांचवें वनडे में शानदार शतकीय पारी खेली. रोहित के लिए ये शतक काफी अहम था लेकिन शतक लगाने के बाद भी वो काफी शांत रहे.

By: | Updated: 14 Feb 2018 08:30 PM

टेस्ट सीरीज के बाद चार वनडे में रनों के लिए तरसे रोहित शर्मा ने साउथ अफ्रीका के खिलाफ पांचवें वनडे में शानदार शतकीय पारी खेली. रोहित के लिए ये शतक काफी अहम था लेकिन शतक लगाने के बाद भी वो काफी शांत रहे.

भारत की ऐतिहासिक जीत में मैन ऑफ द मैच रहे रोहित शर्मा ने शतक के शांत जश्न का राज खोल दिया है. रोहित के साथ हुई गलतफहमी के कारण कप्तान विराट कोहली और अजिंक्य रहाणे रन आउट हो गए थे. रोहित ने कहा कि दो खिलाड़ियों के आउट होने के बाद दबाव उन पर आ गया था और वह अपनी लय को बरकरार रखने पर ध्यान देना चाहते थे.

मंगलवार देर रात हुए मैच में भारत ने दक्षिण अफ्रीका को 73 रनों से मात देते हुए छह वनडे मैचों की सीरीज 4-1 से अपने नाम कर ली है.

रोहित ने मैच के बाद कहा, "मुझसे पहले दो खिलाड़ी रन आउट हो गए थे, इसलिए जश्न मनाने की कोई बात नहीं थी. यह निर्भर करता है कि आपका मूड किस तरह का है. दो बल्लेबाजों के आउट होने के बाद मैं सिर्फ अपनी लय को बरकरार रखना चाहता था और जश्न मेरे दिमाग में नहीं था."

यह भारत की दक्षिण अफ्रीका में पहली वनडे सीरीज जीत है. रोहित ने इसमें अहम योगदान दिया था और पांचवें वनडे में 115 रनों की पारी खेली थी. रोहित का यह साउथ अफ्रीका में पहला शतक भी है.

विदेशों में सबसे बड़ी जीत

भारतीय उप कप्तान रोहित शर्मा को लगता है कि टीम ने मौजूदा सीरीज में साउथ अफ्रीका को पस्त कर विदेशों में सबसे बड़ी वनडे सीरीज अपने अपने नाम की है.

रोहित ने कहा, ‘‘निश्चित रूप से, मुझे लगता है कि यह विदेशों में वनडे मे हमारी सबसे बड़ी जीत है. यह अच्छी जीत है क्योंकि यह द्विपक्षीय सीरीज थी. इससे पहले हमने ऑस्ट्रेलिया में 2007-08 में सीबी ट्राई सीरीज जीती थी. हालांकि वो सीरीज भी काफी कठिन थी.’’

उन्होंने कहा, ‘‘मेरे लिये, दोनों की तुलना करना काफी मुश्किल है. मुझे लगता है कि यह सीरीज हमारे लिये काफी मायने रखती है. हम जिस तरह से पहले मैच से खेले थे, उसे देखकर साफ पता चलता है कि हमने सीरीज में दबदबा बनाया और नतीजा भी सबके सामने है. ’’

रोहित ने कहा कि मुश्किल परिस्थितियों के बावजूद टीम ने पूरी तरह दबदबा बनाया जिससे यह जीत काफी विशेष बन गयी है.

उन्होंने कहा, ‘‘यह जीत सबमें बिलकुल ऊपर रहेगी. 25 वर्षों के बाद हमने साउथ अफ्रीका में सीरीज जीती है. क्रिकेट खेलने के लिए यह बिलकुल भी आसान जगह नहीं है, निश्चित रूप से सीरीज जीतने के लिये तो यह बिलकुल आसान जगह नहीं है. मुझे लगता है कि इसके लिये काफी श्रेय खिलाड़ियों को जाता है. ’’

रोहित ने कहा, ‘‘जिस भी खिलाड़ी को मौका मिला, उसने हाथ उठाकर चुनौती अपने कंधों पर ली. अगर आप पूरी वनडे सीरीज को देखो तो इसमें हमारा प्रदर्शन दबदबे वाला था. इससे बतौर टीम विदेशों में जाने के लिये और वहां सीरीज जीतने के लिये हमारा आत्मविश्वास बढ़ेगा ही. ’’

उन्हें साथ ही यह भी लगता है कि टेस्ट सीरीज भी एकतरफा मुकाबला नहीं थी जिसमें भारतीय टीम 1-2 से हार गयी थी.

उन्होंने कहा, ‘‘मेरा मानना है कि टेस्ट सीरीज बहुत ही करीबी थी. यह किसी भी तरफ जा सकती थी. जो भी हो, हमें अपने प्रदर्शन पर गर्व है और आज जो हमने हासिल किया, उस पर हमें गर्व है. ’’

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title: रोहित ने खोला राज, शतक लगाने के बाद भी क्यों नहीं मनाया जश्न
Read all latest Sports News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story भारत से मिली हार के बाद स्मिथ ने उठाए कप्तानी पर सवाल