स्पिनरों के खराब प्रदर्शन ने बढ़ाई कप्तान धोनी की परेशानी

By: | Last Updated: Wednesday, 13 January 2016 7:46 PM
Spinners’ overseas misery leaves Dhoni worried

ब्रिसबेन: रविचंद्रन अश्विन और रविंद्र जडेजा ने घरेलू सरजमीं पर साउथ अफ्रीका को धूल चटाने में अहम भूमिका निभाई थी लेकिन ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पहले वनडे में भारत की हार के बाद इस स्पिन जोड़ी के उप महाद्वीप के बाहर प्रभाव पर एक बार फिर सवाल उठने लगे हैं.

गेंदबाज का बुरा दिन हो सकता है लेकिन ऑस्ट्रेलिया के कप्तान स्टीवन स्मिथ और जॉर्ज बैली ने कल यहां इन दोनों के खिलाफ 18 ओवर में जिस तरह 129 रन बनाए वह महेंद्र सिंह धोनी के लिए चिंता का सबब है.

धोनी ने पांच गेंदबाजों के साथ उतरने की जरूरत पर बल दिया था क्योंकि मौजूदा टीम में पार्ट टाइम गेंदबाजों की कमी है.

धोनी को अपने स्पिनरों पर काफी भरोसा है लेकिन सपाट पिच पर अश्विन और जडेजा की नाकामी से टीम संयोजन को लेकर भारतीय कप्तान को अपने सबसे बुरे सपने का सामना करना पड़ा.

निराश धोनी ने हार के बाद कहा, ‘‘मैंने कभी नहीं सोचा था कि स्पिनरों के लिए दिन बेहद खराब रहेगा और बाकियों को जिम्मेदारी बांटनी पड़ेगी.’’ उन्होंने कहा, ‘‘जब मैंने बोझ साझा करने की बात की थी तो मैंने किसी एक तेज गेंदबाज के बुरे दिन की बात की थी.’’

तेज गेंदबाजों ने भारत को ठोस शुरूआत दिलाई थी जो भारत घरेलू मैदान पर साउथ अफ्रीका के खिलाफ हासिल करने की कोशिश कर रहा था. कल के मैच के दौरान एक बार फिर मुंबई वनडे की याद ताजा हो गई थी जब साउथ अफ्रीकी बल्लेबाजों ने पूरे भारतीय गेंदबाजी आक्रमण को ध्वस्त कर दिया था. पूरी दुनिया में विकेटों की प्रकृति बदल रही है और प्रत्येक सत्र में नियमों में बदलाव से सीमित ओवरों का प्रारूप गंेदबाजों के खिलाफ होता जा रहा है.

तेज गेंदबाजों के सामने चुनौती घरेलू मैदानों पर अच्छा प्रदर्शन करना है जबकि स्पिनरों को विदेशी दौरों पर बेहतर प्रदर्शन की दरकार है.

धोनी ने कहा, ‘‘मुझे लगता है कि टी20 के आने से लोगों के खेलने का तरीका बदल गया है. आप यह नहीं सोच सकते कि आपने काफी रन बनाए हैं तो आप मैच जीत जाओगे. हमने राजकोट में श्रीलंका के खिलाफ 400 से अधिक रन बनाए और फिर अंत में एक या दो रन से जीते. क्रिकेट में काफी बदलाव आया है और इसके साथ बल्लेबाजों की शाट खेलने की क्षमता भी बदली है.’’ भारत दूसरे वनडे में अपने गेंदबाजी आक्रमण में बदलाव कर सकता है और ऐसे में नजरें रिषि धवन और गुरकीरत मान के अलावा इशांत शर्मा पर टिकी होंगी.

धोनी ने कहा, ‘‘इशांत शर्मा की अंगुली में चोट थी लेकिन वह चयन के लिए उपलब्ध था. लेकिन संभावना थी कि अगर दोबारा उसकी अंगुली में लगे तो वह अगले चार मैचों से बाहर हो सकता था.’’ इस बीच ऑस्ट्रेलिया ने भी अपनी टीम में कुछ बदलाव किए हैं. उप कप्तान डेविड वार्नर पितृत्व अवकाश पर जा रहे हैं और उनकी जगह अगले दो वनडे के लिए उस्मान ख्वाजा को टीम में शामिल किया गया है.

मिशेल मार्श को भी आराम दिया गया है और उनकी जगह जान हास्टिंग्स लेंगे.

Sports News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Spinners’ overseas misery leaves Dhoni worried
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: MS Dhoni Overseas R ashwin spinners
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017