हॉकी छोड़ने के बाद ड्वायर को भारत से जोड़े रखेगा ‘ताज’

By: | Last Updated: Sunday, 29 November 2015 12:55 PM
‘Taj’ Will Continue to Connect Jamie Dwyer with India Post Hockey

रायपुर: ऑस्ट्रेलियाई हॉकी के पर्याय बन चुके और अब तक 326 अंतरराष्ट्रीय मैच खेलने वाले जेमी ड्वायर का भारत से अपने दूसरे बेटे के कारण गहरा रिश्ता बना हुआ है. ऑस्ट्रेलिया का प्रतिनिधित्व करते हुए और हॉकी इंडिया लीग में खेलने के कारण ड्वायर ने भारत के कई स्थानों का दौरा किया है और ऐसे ही एक अवसर पर वह ताजमहल देखने भी गये.

 

इस 17वीं सदी के स्मारक की सुंदरता से ड्वायर इतने अभिभूत हुए कि उन्होंने अपने दूसरे बेटे का नाम ‘ताज’ रख दिया. ड्वायर ने हॉकी विश्व लीग (एचडब्ल्यूएल) फाइनल से इतर कहा, ‘‘मुझे यह नाम पसंद है. उसका जन्म 2010 के आखिर में हुआ और 2010 में मैं विश्व कप और राष्ट्रमंडल खेलों के लिये भारत में था और इन दोनों में हमने जीत दर्ज की थी. उस दौरान मैंने ताजमहल का दौरा किया और मैं उसकी सुंदरता से मंत्रमुग्ध हो गया. ’’

 

उन्होंने कहा, ‘‘ताज का अंग्रेजी में मतलब ‘क्राउन’ होता है और मुझे यह बहुत अच्छा नाम लगा. वह छोटा और प्यारा सा बच्चा है और मेरे लिये ताज है. ’’ ड्वायर एक और बेटे के पिता हैं जिसका जन्म इस साल के शुरू में हुआ था. ड्वायर ने 326 अंतरराष्ट्रीय मैचों में 200 से अधिक गोल किये हैं. वह ऑस्ट्रेलिया की तरफ से सबसे अधिक मैच खेलने वाले खिलाड़ी हैं. इतने लंबे समय तक हॉकी में बने रहने के बारे में उन्होंने कहा, ‘‘मेरा मानना है कि आपको खुद को चुनौती पेश करती रहनी चाहिए. आपको सुधार जारी रखने चाहिए. मैंने 2001 में शुरूआत की थी और तब से खेल में बहुत बदलाव आ गये हैं. युवा खिलाड़ियों के साथ खेलना और टीम में तालमेल बनाये रखना चुनौतीपूर्ण होता है. ’’

 

ड्वायर भले ही अपने अंतरराष्ट्रीय करियर के आखिरी पड़ाव पर हैं लेकिन उनकी निगाह रियो में रिकॉर्ड चौथे ओलंपिक खिताब पर है. इसके बाद वह हॉकी को अलविदा कहना चाहते हैं. उन्होंने कहा, ‘‘यह मायने नहीं रखता कि मुझे ओलंपिक के लिये चुना जाएगा या नहीं. मैं इस साल संन्यास ले लूंगा. यह शत प्रतिशत है कि यह मेरा आखिरी ओलंपिक होगा. और यदि मुझे चुना गया तो मैं ऑस्ट्रेलिया के लिये एक और ओलंपिक स्वर्ण पदक जीतना चाहूंगा लेकिन यदि मुझे नहीं चुना गया तो मैं तुरंत संन्यास ले लूंगा. ’’

 

ड्वायर ने स्वयं स्वीकार किया कि भारत के लिये उनके दिल में विशेष स्थान पर हैं और वर्तमान एचडब्ल्यूएल फाइनल में अच्छा प्रदर्शन करना चाहते हैं जो भारतीय सरजमीं पर उनका अंतिम अंतरराष्ट्रीय टूर्नामेंट होगा. उन्होंने कहा, ‘‘मैंने भारत में काफी हॉकी खेली है. मैंने वास्तव में यहां आने का आनंद उठाया. दर्शकों का जवाब नहीं. लेकिन दुखद है कि मैं आखिरी बार भारत में आस्ट्रेलिया का प्रतिनिधित्व करूंगा लेकिन मैं हाकी इंडिया लीग में फिर से यहां खेल सकता हूं. इसलिए मैं इस मौके का पूरा फायदा उठाना चाहता हूं. यह टूर्नामेंट कुछ अच्छी टीमों के खिलाफ बहुत अच्छी चुनौती है. ’’ ड्वायर ने कहा कि संन्यास के बाद वह किसी अन्य भूमिका में खेल से जुड़ना चाहेंगे लेकिन तुरंत ऐसा नहीं करेंगे.

Sports News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: ‘Taj’ Will Continue to Connect Jamie Dwyer with India Post Hockey
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Related Stories

BCCI से एनओसी पाने के लिये केरल हाईकोर्ट पहुंचे श्रीसंत
BCCI से एनओसी पाने के लिये केरल हाईकोर्ट पहुंचे श्रीसंत

कोच्चि: क्रिकेटर एस श्रीसंत ने बीसीसीआई से अनापत्ति प्रमाणपत्र (एनओसी) के लिए केरल हाईकोर्ट...

डे-नाइट टेस्ट मैच में दोहरा शतक लगाने वाले दूसरे बल्लेबाज बने एलिस्टेयर कुक
डे-नाइट टेस्ट मैच में दोहरा शतक लगाने वाले दूसरे बल्लेबाज बने एलिस्टेयर कुक

बर्मिंघम: पाकिस्तान के अजहर अली के बाद एलिस्टेयर कुक डे-नाइट टेस्ट मैच में दोहरा शतक जड़ने वाले...

टेनिस: सिनसिनाटी ओपन के क्वार्टर फाइनल में कोंटा
टेनिस: सिनसिनाटी ओपन के क्वार्टर फाइनल में कोंटा

बासिल: ब्रिटेन की स्टार महिला टेनिस खिलाड़ी योहाना कोंटा ने सिनसिनाटी ओपन टेनिस टूर्नामेंट के...

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017