INDvsSA: धोनी के ये 5 वीर आज जलाएंगे विरोधी टीम की 'लंका'!

By: | Last Updated: Thursday, 22 October 2015 7:10 AM
Team India_

नई दिल्ली/चेन्नई: भारत और दक्षिण अफ्रीका की क्रिकेट टीमें पांच मैचों की एकदिवसीय सीरीज के चौथे मुकाबले में गुरुवार को एम. चिदम्बरम स्टेडियम में आमने-सामने होंगी. पांच मैचों की एकदिवसीय श्रृंखला में दक्षिण अफ्रीका 2-1 से अहम बढ़त ले चुका है और यदि वे चेन्नई एकदिवसीय जीत जाते हैं तो सीरीज पर उनका कब्जा हो जाएगा.

 

लेकिन मेहमान टीम के लिए आज का मुकाबला आसान नहीं रहने वाला. भारतीय टीम भले ही 2-1 से पिछडड़ गई हो लेकिन हर मुकाबले में टीम इंडिया के कुछ खिलाड़ियों नेो साउथ अफ्रीकी टीम को मुश्किल में डाला है. आज हम आपको टीम इंडिया के ऐसे 5 खिलाड़ियों बारे में बताने डा रहा है जो आज के मुकाबले में कप्तान धोनी के लिए तुरूप का इक्का साबित हो सकते हैं.

 

आइये नज़र डालें 5 ऐसे खिलाड़ियों पर जो आज टीम इंडिया को मनवाएंगे ‘विजयदशमी’

 

रोहित शर्मा: टीम इंडिया का ये विस्फोटक ओपनर इस सीरीज़ में बेहतरीन फॉर्म मेंम नज़र आ रहा है. पहले वनडे मुकाबले में 303 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए रोहित ने 150 रनों की बेहद मजबूत पारी खेल साउथ अफ्रीका के पसीने छुटा दिए थे. वहीं इसके बाद तीसरे वनडे में लक्ष्य का पीछा करते हुए एख बार फिर रोहित ने शानदार 65 रन बनाए. रोहित इस सीरीज़ में साउथ अफ्रीकी गेंदबाज़ों को आसानी से खेल रहे हैं. इसलिए आज अगर वो चले तो साउथ अफ्रीका का पार पाना आसान नहीं होगा.

 

अजिंक्ये रहाणे: कप्तान धोनी ने इस सीरीज़ के 3 में से 2 मुकाबलो में टेस्ट कप्तान विराट की जगह रहाणे को तीसरे नंबर पर बल्लेबाज़ी करने भेजा और रहाणे ने विरोधी टीम को अपने बल्ले से करारा जवाब भी दिया. रहाणे ने अब तक खेले 3 मुकाबलों में 60, 51 और 5 रन की पारियां खेली हैं. वो इस सीरीज़ में अच्छे टच में दिख रहे हैं और पिछले मैच को छोड़ दिया जाए तो वो टीम में अपनी भूमिका को भी अच्छी तरह से निभा रहे हैं.

 

अगर रहाणे आज चले तो ये टीम इंडिया के लिए फायदेमंद साबित होगा.

 

एम एस धोनी: रोहित और रहाणे के बाद टीम के मध्यक्रम में जो बल्लेबाज़ अब तक इस सीरीज़ में अपनी छाप छोड़ पाया है वो हैं खुद कप्तान एमएस धोनी. धोनी ने इस सीरीज़ में अपने बल्ले से साबित किया है कि अभी उनमें काफी क्रिकेट बाकी है. पहले वनडे में 31, दूसरे वनडे में नाबाद 92 और तीसरे मुकाबले में 47 रनों की अहम पारी.

 

धोनी ने जब तक मैदान पर मौजूद रहते हैं तब तक दूसरे छोर के बल्लेबाज़ पर कोई प्रेशर नहीं रहता. जबकि विरोधी टीम बुरी तरह सहमी रहता है क्योंकि कप्तान धोनी के पास वो कला है जो खुद अकेले दम पर टीम इंडिया को मुकाबला जिताकर ले जाए. इसलिए धोनी का आज भी चलना बहुत ज़रूरी है.

 

अमित मिश्रा: पहले वनडे में आर अश्विन के चोटिल होने के बाद अमित मिश्रा ने सीरीज़ में खेले दोनों मुकाबलों में उस जगह को भरने का पूरा प्रयास किया. भारतीय तेज़ गेंदबाज़ों के साधारण साबित होने के बाद दोनों मुकाबलों में मिश्रा ने बेहतरीन गेंदबाज़ी की. जहां पहले वनडे में मिश्रा ने 2 विकेट लिए. वहीं तीसरे वनडे में उन्होनें बेहद किफायती गेंदबाज़ी करते हुए मात्र 38 रन देकर 1 विकेट हासिल किया.

 

अमित मिश्रा अगर आज चलते हैं तो वो साउथ-अफ्रीकी टीम के लिए सिरदर्द साबित होंगे.

हरभजन सिंह: अश्विन की गैर मौजूदगी में जिस दूसरे स्पिनर को टीम के साथ जोड़ा गया उसमें हरभजन सिंह भी शामिल हैं. भज्जी ने दोनों मुकाबलों में रन रोकने के साथ-साथ अच्छी गेंदबाज़ी भी की. दूसरे वनडे में हरभजन ने 2 विकेट हासिल किए. जबकि तीसरे मुकाबले में वो बेहद किफायती रहे और उन्होनें 41 रन देकर 1 विकेट झटका.

Sports News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Team India_
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017