नन्हे शुभम जगलान ने दो हफ्ते में दो जूनियर वर्ल्ड गोल्फ खिताब जीत रचा इतिहास

By: | Last Updated: Friday, 24 July 2015 4:33 AM

नई दिल्ली: 10 साल के नन्हे शुभम ने एक हफ्ते में दूसरी बार देश को जश्न मनाने का बड़ा मौका दे दिया है. कुछ दिन पहले ही कैलिफोर्निया के सैन डिएगो में जूनियर वर्ल्ड गोल्फ चैंपियनशिप जीतने वाले शुभम ने बुधवार को जूनियर गोल्फ इवेंट के आईजेजीए वर्ल्ड स्टार्स खिताब जीतकर इतिहास रच दिया है.

 

हरियाणा के एक दूधवाले के बेटे शुभम को चंद रोज़ पहले ही अपनी अलग पहचान मिली थी जब उन्होनें कैलिफोर्निया के सैन डिएगो में जूनियर वर्ल्ड गोल्फ चैंपियनशिप जीती थी. इस तरह पिछले दो हफ्ते में यह उनका दूसरा विश्व खिताब हो गया है. सिर्फ 10 साल की नन्ही उम्र में इतने बड़े-बड़े कारनामे कर शुभम भी बेहद खुश हैं. एक न्यूज़ चैनल से खास बातचीत करते हुए उन्होनें कहा, ‘ मुझे वाकई बहुत खास महसूस हो रहा है। मेरे सभी दोस्त मुझे बधाई दे रहे हैं। उन्होंने कहा, मैं बस कड़ी मेहनत कर रहा हूं, और मेरे लिए कोई शॉर्ट-कट नहीं है.’

 

हरियाणा के पहलवान परिवार में जन्मे दिल्ली के एक 10 साल के लड़के ने बीते हफ्ते कैलीफॉर्निया के सैन डिएगो में जूनियर वर्ल्ड गोल्फ चैंपियनशिप जीतकर इतिहास रच दिया था. जी हां 10 साल के शुभम जगलान ने इस खिताब से पहले पिछले हफ्ते भी तीन दौर के मुकाबले के बाद शुभम ने 7 अंडर पार-179 के स्कोर के साथ विजेता ट्रॉफी अपने नाम कर ये बड़ा कारनामा कर दिखाया था.

 

इसके बाद शुभम ने अपने फेसबुक पोस्ट पर लिखा, ”आई हैव फाइनली डन इट.”(आखिर मैनें कर दिखाया.) पिछले साल के रनरअप शुभम ने कहा कि उन्होनें जूनियर गोल्फ में एक बेहद प्रतिष्ठित टूर्नामेंट जीत अपने नाम कर लिया है.

 

शुभम ने इस बड़ी जीत के बाद अपने परिवार, दिल्ली गोल्फ कल्ब, गोल्फ फाउंडेशन और अपनी कोच नौनिता लाल कुरैशी को तहेदिल से शुक्रिया अदा किया. शुभम ने कहा, ”मुझे इस मकाम तक पहुंचाने में मेरी कोच नौनीता ने अहम रोल अदा किया है जिन्होनें मेरे खेल और दिमाग को इस लेवल पर खेलने के लिए मजबूत किया.”

 

इसके साथ ही उन्होने कहा यह उनके और उनके पिता के लिए बहुत बड़ी चीज़ है. अपने पिता का धन्यवाद करते हुए शुभम ने कहा कि वो दिन-रात 24 घंटे उसके साथ रहते थे. अपने पिता के साथ-साथ शुभम ने द गोल्फ फाउंडेशन के अमित लूथरा को भी धन्यवाद दिया. शुभम के टेलेंट को अमित ने बहुत जल्दी पहचान लिया और उन्हे हर तरह से खेल में तैयार होने के लिए पूरी तरह से मदद दी.

 

लूथरा ने टेलीग्राफ से बात करते हुए कहा कि उन्होनें इस लड़के के टेलेंट को पहचान लिया था जिसके बाद वो इसे दिल्ली लेकर आए. उसकी टैक्नीक में अलग बात थी.

 

शुभम के पिता जगपाल ने भी शुभम के लिए कई कुर्बानियां दीं. वो पानीपत से अपनी गाय-भैंस सब बेचकर शुभम को दिल्ली ले आए. शुभम के पिता ने कहा, ”वो जानते थे अगर वो शुभम को दिल्ली नहीं लेकर जाते तो बाद में उन्हें बहुत पछताना पड़ेगा.”

 

इस नन्हे वर्ल्ड चैंपियन के हीरो टाइगर वुड्स और जैक निकलोस जैसे स्टार्स हैं. 

Sports News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Ten-Year-Old Shubham Jaglan Wins 2nd Junior World Golf Title in 2 Weeks
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017