खिलाड़ी जो सच करेंगे द्रविड़ का सपना

नई दिल्लीः टूर्नामेंट में अब तक सभी मैच जीत कर फाइनल में पहुंची टीम इंडिया वेस्टइंडीज के खिलाफ जीत के साथ चौथी बार आईसीसी अंडर 19 क्रिकेट विश्व कप जीतने के इरादे से उतरेगी. पूर्व भारतीय दिग्गज राहुल द्रविड़ के कोच बनने के बाद टीम एक भी मैच नहीं हारी है और ऐसे में इन खिलाड़ियों से टीम को एक और जीत की उम्मीद है.

ishan-kishan
ईशान किशन

भारत की युवा ब्रिगेड अंडर 19 क्रिकेट टीम के कप्तान जिन्हें भविष्य का विराट कोहली कहा जाने लगा है. किशन की कप्तानी में टीम ने न सिर्फ विरोधियों के खिलाफ मैच जीते बल्कि एक से बढ़कर एक रिकॉर्ड भी बनाए. किशन के खेल से ज्यादा उनकी कप्तानी के अंदाज की तारीफ होती है. उस हुनर की तारीफ होती है जिसकी वजह से टीम इंडिया श्रीलंका जैसी धुरंधर टीम को हराकर फाइनल में पहुंच गई.

फिलहाल अंडर 19 क्रिकेट टीम की कप्तानी कर रहे ईशान किशन जल्द ही आईपीएल में गुजरात की टीम की तरफ से खेलते हुए भी दिखेंगे. गुजरात की टीम ने उन्हें 35 लाख रु में खरीदा है.

pant 2

ऋषभ पंत

भारत की अंडर 19 वर्ल्ड कप टीम के उपकप्तान ऐसे सलामी बल्लेबाज जिन्होंने बांग्लादेश की धरती पर 1 फरवरी को बनाया 18 गेंदों में 50 रन बनाने का रिकॉर्ड जो अंडर 19 क्रिकेट में अब तक का सबसे तेज अर्धशतक है.

इसके बाद ऋषभ ने नामीबिया के खिलाफ शतक लगाया और मैन ऑफ द मैच बने तो दूसरी तरफ खबर आई कि आईपीएल में दिल्ली डेयर डेविल्स की टीम ने उन्हें 1 करोड़ 90 रु में खरीद लिया है.

ऋषभ पंत अंडर 19 के वो सबसे मजबूत और दमदार खिलाड़ी हैं जिनके प्रदर्शन पर खुद उनके कोच राहुल द्रविड भी सबसे ज्यादा भरोसा करते हैं.

अब सबको इंतजार है उस लम्हे का जब वर्ल्ड कप जीतकर ऋषभ घर लौटेगा और सब मिलकर वर्ल्ड कप की जीत का जश्न मनाएंगे.

avesh-khan

आवेश खान

भारत की अंडर 19 विश्व कप क्रिकेट टीम के तेज गेंदबाज. विश्वकप मुकाबले के दूसरे ही मैच में न्यूजीलैंड के शुरूआती 4 विकेट झटककर आवेश ने न सिर्फ टीम को जिताया बल्कि क्वार्टर फाइनल में एंट्री के जरिए विश्वकप फाइनल तक पहुंचने की राह भी खोल दी. क्रिकेट में आवेश को इस मुकाम तक लाने वाले कोच अमय खुराशिया का कहना है कि आवेश बड़े टूर्नामेंट यानि दबाव वाले मैचों में अच्छा प्रदर्शन करते हैं.

साधारण परिवार में जन्में आवेश ने लगन और मेहनत के दम पर क्रिकेट की दुनिया में अपनी खास छाप छोड़ दी है. घरवालों को उम्मीद है कि अंडर 19 के बाद टीम इंडिया में भी उसकी एंट्री जरूर होगी.

MahipalLomror

महिपाल लामरोड

14 फरवरी को बांग्लादेश की राजधानी ढाका में होने वाले अंडर 19 क्रिकेट वर्ल्ड के फाइनल मुकाबले को लेकर अब देश में दुआओ का दौर शुरू हो गया है. हर कोई शख्स दुआए कर रहा हे की अंडर 19 क्रिकेट वर्ल्ड कप का मुकाबला देश की टीम जीते. इसी के साथ साथ दुआए उस नोजवान खिलाडी के लिए भी हो रही है जो राजस्थान के नागौर से निकला है.

जी हां अंडर19 किकेट टीम का चेहरा महिपाल लामरोड. जिसने अपने ऑल राउंड प्रदर्शन से सभी का दिल जीता है. गाँव देहात और घर से आँगन से क्रिकेट जीवन की शुरुआत करने वाले महिपाल को लेकर अब सभी की निगाहें 14 फ़रवरी के वर्ल्ड कप फाइनल पर टिक गई है.

Sarfaraz Khan
सरफराज खान

अंडर 19 वर्ल्ड कप क्रिकेट टीम में धमाकेदार प्रदर्शन के बाद इन्हें अगला सचिन तेंडुलकर तक कहा जाने लगा है.

पांच मैच मे 304 रन, चार अर्धशतक. अंडर19 वर्ल्ड कप मे सरफराज खान भारत के सबसे मजबूत बल्लेबाज साबित हुए है.

मुंबई की मिट्टी मे पले बडे सरफराज बचपन से ही क्रिकेट के मैदान में अपनी ताकत दिखाते आए है. सरफराज का नाम पहली बार तब चर्चा मे आया था, जब उन्होने हॅरिस शील्ड मे सबसे बडी पारी का रिकॉर्ड बनाया था.

साल 2009 में सरफराज ने हॅरिस शील्ड अंडर-16 स्कूली क्रिकेट प्रतियोगिता के एक मुकाबले में ये कारनामा किया था. उन्होने अपने स्कूल रिजवी स्प्रिंगफील्ड की तरफ से खेलते हुए 439 रन की पारी बनाई थी.

2014 में सरफराज को महज 15 साल की उम्र मे भारत की अंडर 19 टीम मे जगह मिली. युएई मे हुई उस प्रतियोगिता मे सरफराज ने 6 मॅचो मे 70.33 की औसत से 211 रन बनाए थे. उसी साल उन्होने मुंबई की ओर से रणजी क्रिकेट मे कदम रखा और 3 मैचों मे 95 रन बनाए. फिर पिछले साल से वो उत्तर प्रदेश रणजी टीम की ओर से खेलने लगे. पिछले साल ही सरफराज के लिए मे आईपीएल के दरवाजे भी खुल गए. रॉयल चॅलेन्जर्स ने उन्हे 50 लाख मे खरीदा

टीम इंडिया के विराट कोहली ही नहीं बल्कि क्रिस गेल जैसे विदेशी क्रिकेटर भी सरफराज की बल्लेबाजी के कायल हो चुके हैं

Arman-Jaffer
अरमान जाफर

अंडर-19 कूच बेहार ट्रॉफी में लगातार तीन दोहरे शतक और चार शतक लगाकर इतिहास रचने वाले बल्लेबाज अरमान जाफर से देश को बहुत उम्मीदे हैं.

मध्य क्रम मे बल्लेबाजी करते हुए अरमान ने अंडर19 वर्ल्ड कप के 5 मैचो मे 155 रन जडे है. सेमी फाइनल मे उन्होंने श्रीलंका के खिलाफ महज 16 गेंदों मे 29 रन की उन की पारी खेली जबकि नामिबिया के खिलाफ उन्होंने 64 रन बनाए.

भारतीय घरेलु क्रिकेट के स्टार वसीम जाफर के भतीजे अरमान जाफर क्रिकेट जगत में अपनी अलग पहचान बना चुके हैं

साल 2010 मे अरमान ने मुंबई की जाईल्स शील्ड अंडर14 स्कूली प्रतियोगिता मे 498 रन की पारी खेली थी और अपने ही स्कूल के सरफराज खान का स्कूली क्रिकेट मे सबसे बडी पारी का रिकॉर्ड तोड दिया था. उसके बाद साल 2013 मे हॅरिस शील्ड अंडर16 प्रतियोगिता मे भी उन्होने 473 रन की रिकॉर्ड पारी बनाई. उस के बाद मुंबई की रणजी probables टीम मे अरमान को शामिल किया गया था

दिसंबर मे हुए कूचबिहार ट्रॉफी मे अरमान ने मुंबई की ओर से लगातार चार शतक जडे, जिन मे से तीन दोहरे शतक थे. उसी शानदार फॉर्म की बदौलत अरमान को अंडर-19 विश्वकप के लिए भारतीय टीम मे जगह मिली.

Sports News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: u 19 team near to create history
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017