अंपायर हेयर ने कहा, आईसीसी ने चकर्स पर कार्रवाई करने में देर कर दी

By: | Last Updated: Monday, 13 October 2014 2:55 PM
umpire Darrell Hair

सिडनी: मेलबर्न में 1995 में टेस्ट मैच में दौरान श्रीलंका के महान स्पिनर मुथैया मुरलीधरन की कथित चकिंग के लिए शिकायत करने वाले पूर्व अंतरराष्ट्रीय अंपायर डेरेल हेयर ने कहा है कि अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद ने संदिग्ध एक्शन वाले गेंदबाजों पर कार्रवाई करने में 20 साल की देर कर दी.

 

सिडनी मार्निंग हेराल्ड ने हेयर के हवाले से कहा, ‘‘वे अब जो भी कर रहे हैं वे उसे 20 साल देर से कर रहे हैं.’’ हेयर का मानना है कि आईसीसी ने ‘चकर्स’ को फलने फूलने का मौका दिया.

 

उन्होंने कहा, ‘‘उनके (आईसीसी के) पास 1995 में चीजों को साफ सुथरा करने का मौका था और उन्हें अंतत: उस राह पर आने में 19 साल का समय लग गया. अब वे चाहते हैं कि चकर्स को खेल से बाहर कर दिया जाए. मुझे विश्वास नहीं हो रहा कि सईद अजमल इतने लंबे समय तक गेंदबाजी कर पाए और वे कह रहे हैं कि वह अपनी कोहनी को 45 डिग्री (वैध सीमा 15 डिग्री) या इसके आसपास मोड़ रहा था.’’

 

हेयर ने कहा, ‘‘सभी को इसके बारे में पता था. मुझे लगता है कि यह दिखाता है कि इस समय के दौरान अंपायर इस बारे में कुछ भी करने को लेकर आम तौर पर कमजोर थे.’’ ऑस्ट्रेलियाई अंपायर हेयर ने 78 टेस्ट और 139 एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैचों में अंपायरिंग की. हेयर ने 1995 में मेलबर्न में बाक्सिंग डे टेस्ट के दौरान मुरलीधरन की गेंद को संदिग्ध एक्शन के लिए नोबाल करार दिया था. इस घटना को याद करते हुए हेयर ने कहा, ‘‘लोग कह रहे हैं कि जो हो रहा है उससे आपको खुशी हो रही होगी. चकर्स को बाहर किया जा रहा है. लेकिन इससे मुझे निजी तौर पर कोई संतुष्टि नहीं मिल रही.’’ उन्होंने कहा, ‘‘मैं हमेशा अपना काम कर रहा था और मुझे लगता है कि यह मैंने अपनी सर्वश्रेष्ठ क्षमता के अनुसार किया. तथ्य यह है कि और कोई भी आईसीसी अंपायर ऐसा करने को तैयार नहीं था. रोस एमरसन अपने विचारों को लेकर काफी अटल थे लेकिन जल्द ही उन्हें अंधेरे में धकेल दिया गया.’’

Sports News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: umpire Darrell Hair
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017