सरकार से नाराज हुए धोनी, नहीं बनेंगे स्वच्छ भारत अभियान के ब्रांड एम्बेसेडर!

By: | Last Updated: Friday, 3 July 2015 12:42 PM

नई दिल्लीः टीम इंडिया के वनडे कप्तान महेन्द्र सिंह धोनी झारखंड सरकार की लापरवाहियों के चलते स्वच्छ भारत अभियान के ब्रांड एबेसेडर बनने से मना कर सकते हैं. धोनी वर्तमान में झारखंड के पल्स पोलियो, वन एवं पर्यावरण और साक्षरता अभियान के भी एम्बेसेडर हैं.

 

अंग्रेजी अखबार हिन्दुस्तान टाइम्स में छपी खबर के मुताबिक धोनी सरकार के ढीले और लापरवाही भरे रवैये से नाराज हैं जिसके कारण वो स्वच्छ भारत अभियान के साथ-साथ राज्य में टूरिज्म विकास के प्रस्ताव से भी अपने हाथ खींच सकते हैं. हालांकि अभी तक धोनी की तरफ से इस पर कोई आधिकारिक बयान नहीं आया है. अखबार के मुताबिक धोनी के करीबी रिश्तेदार ने ये जानकारी दी है.

 

उनका कहना है कि, धोनी कई सरकारी अभियानों का चेहरा बने हैं लेकिन कोई सरकार की ओर से सकारात्मक रिस्पॉन्स नहीं आया. सरकार की सुस्त भागीदारी को देखते हुए धोनी ने अब किसी और सरकारी अभियान में साथ नहीं देने का मन बनाया है. वहीं धोनी के एक पारिवारिक दोस्त का कहना है कि राज्य सरकार ने धोनी के प्रस्तावित क्रिकेट एकेडमी के लिए अभी तक रांची में जमीन अलॉट नहीं की है और वो इससे भी नाराज हैं.

Sports News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Unhappy Dhoni may refuse Swachh Bharat Abhiyan offer
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017