इतिहास रचने के बाद कोहली ने कहा- युवा टीम के लिए शानदार उपलब्धि

By: | Last Updated: Tuesday, 1 September 2015 11:52 AM
virat kohli after historic win

कोलंबो: टीम इंडिया के टेस्ट कप्तान विराट कोहली ने श्रीलंका के खिलाफ सीरीज में अपनी टीम की 2-1 की जीत को ‘शानदार उपलब्धि’ करार दिया क्योंकि आज वे ‘इतिहास का हिस्सा’ बन गए.

 

कोहली ने मैच के बाद पुरस्कार वितरण समारोह के दौरान कहा, ‘‘यहां 22 साल बाद जीतना युवा टीम के लिए शानदार उपलब्धि है. मुझे बताया गया है कि किसी भी भारतीय टीम ने 0-1 से पिछड़ने के बाद टेस्ट सीरीज नहीं जीती है. इसलिए हमने आज इतिहास रचा है.’’ भारतीय टेस्ट कप्तान ने इस सफलता का मुख्य कारण ड्रेसिंग रूम में शानदार माहौल को बताया.

 

कप्तान ने कहा, ‘‘यहां तक कि भुवी (भुवनेश्वर कुमार) और आखिरी दो मैच में नहीं खेलने वाले वरूण एरॉन जैसे खिलाड़ी भी हमारी मदद कर रहे थे. हरभजन सिंह जैसा सीनियर खिलाड़ी भी बाहर से हमारी मदद कर रहा था. यह सामूहिक प्रयास था. सभी योगदान देने को बेताब थे और यह ऐसी जीत है जिस पर हमारा टेस्ट करियर बनेगा.’’

 

कप्तान कोहली ने टीम के कई खिलाड़ियों के चोटिल होने के बाद वापसी करने वाले चेतेश्वर पुजारा की विशेष तौर पर तारीफ की.

 

उन्होंने कहा, ‘‘चोट हमेशा से ऐसी चीज रही है जिससे टीम को हताशा होती है. लेकिन रवैया शानदार रहा. किसी के चोटिल होने के बाद पुजारा टीम में आया और उसने इसे मौके के रूप में देखा, मुश्किल के रूप में नहीं. यही कारण है कि हम वैसी क्रिकेट खेल पा रहे हैं जैसी हम अभी खेल रहे हैं.’’

 

टीम में सुधार की गुंजाइश है लेकिन कुल मिलाकर कोहली टीम के प्रदर्शन से संतुष्ट हैं. उन्होंने कहा, ‘‘कुछ क्षेत्र हैं जिनमें हम सुधार करना चाहते हैं लेकिन इस सीरीज में हम अपने खराब सत्र को एक हाथ की उंगलियों में गिन सकते हैं. खिलाड़ियों पर गर्व है.’’

 

मैन ऑफ द मैच पुजारा ने कहा, ‘‘यह मेरे लिए अच्छा मौका था, हम 1-1 से बराबर थे और अब हम सीरीज जीत गए हैं. नई गेंद का सामना करना चुनौतीपूर्ण था, यह मौका भी था. मेरी तैयारी अच्छी थी और अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में मेरे अनुभव से मदद मिली.’’

 

इस बीच श्रीलंका के कप्तान एंजेलो मैथ्यूज ने स्वीकार किया कि खराब बल्लेबाजी ने उन्हें निराश किया.

 

मैथ्यूज ने कहा, ‘‘निराशाजनक, विशेषकर अहम टास जीतने के बाद उन्हें मुश्किल हालात में बल्लेबाजी कराने के बाद. हमारी बल्लेबाजी एक बार फिर नाकाम रही. गेंदबाजों ने शानदार प्रदर्शन किया. इसके बाद उन्हें 100 रन की बढ़त देने के बाद हमने अच्छी बल्लेबाजी नहीं की. हमें उन्हें पहली पारी में 300 रन से कम के स्कोर पर रोक सकते थे.’’

 

उन्होंने कहा, ‘‘गेंदबाजों ने काफी अच्छी गेंदबाजी की लेकिन भारत ने अच्छी बल्लेबाजी की. पहली पारी में हमारी बल्लेबाजी महत्वपूर्ण थी, हमें 300 के करीब पहुंचने की जरूरत थी. मैं और कुशाल अगर लंबे समय तक टिके रहते तो मामला अलग हो सकता था. लेकिन उन्होंने काफी अच्छी गेंदबाजी की.’’

Sports News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: virat kohli after historic win
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Related Stories

ENGvsWI: कुक और रूट के शतकों से पहले दिन इंग्लैंड मजूबत
ENGvsWI: कुक और रूट के शतकों से पहले दिन इंग्लैंड मजूबत

बर्मिंघम: पूर्व कप्तान एलिस्टेयर कुक और मौजूदा कप्तान जो रूट की शानदार शतकों की मदद से...

श्रीलंका के खिलाफ वनडे सीरीज से पहले धोनी ने नेट्स में दिखाया दम
श्रीलंका के खिलाफ वनडे सीरीज से पहले धोनी ने नेट्स में दिखाया दम

दाम्बुला: 20 अगस्त को श्रीलंका के खिलाफ शुरु...

'यो-यो' से हारे टीम इंडिया के युवराज
'यो-यो' से हारे टीम इंडिया के युवराज

नई दिल्ली: कैंसर को मात देकर क्रिकेट के मैदान पर वापसी करने वाले टीम इंडिया के सिक्सर किंग...

उमर अकमल ने पाक टीम के कोच मिकी आर्थर पर लगाया बदसलूकी का आरोप
उमर अकमल ने पाक टीम के कोच मिकी आर्थर पर लगाया बदसलूकी का आरोप

कराची: पाकिस्तान क्रिकेट टीम के खिलाड़ी उमर अकमल ने दावा किया कि टीम के मुख्य कोच मिकी आर्थर ने...

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017