U19 विश्वकप: किसने तोड़ा कोच राहुल द्रविड़ का सपना

west indies beat india in u-19 final

नई दिल्लीः 1983 विश्व कप में खेले गए फाइनल का इतिहास भारतीय अंडर 19 क्रिकेट टीम के खिलाड़ी नहीं दोहरा पाए. बांग्लादेश में खेले गए विश्व कप के फाइनल में वेस्टइंडीज ने भारत को 5 विकेट से हराकर 33 साल बाद हार का बदला ले लिया. इससे ने न सिर्फ खिलाड़ियों का सपना टूटा बल्कि भारत के कोच और तीन विश्व कप में भारत का प्रतिनिधित्व कर चुके राहुल द्रविड़ का विश्व कप जीतने का सपना भी टूट गया. द्रविड़ के कोच बनने के बाद लगातार टीम ने 13 मैच जीते लेकिन लो स्कोर फाइनल में उन्हें हार मिली.

बल्लेबाजों के कारण हारी टीम इंडिया

अपनी बेहतरीन बल्लेबाजी के कारण टूर्नामेंट में अब तक अजेय रहने वाली टीम इंडिया. फाइनल में बिखर गई. टीम के सभी नामी गिरामी बल्लेबाज फाइनल का प्रेशर नहीं झेल पाए और 45.1 ओवर में 145 रन पर ढ़ेर हो गए. भारत की ओर से सिर्फ सरफराज खान की टिककर बल्लेबाजी कर पाए जिन्होंने 51 रन की पारी खेली. उनके अलावा राहुल बैथम (21) और महिलपाल लोमरोर (19) ही दोहरे अंक में पहुंचा पाए.

डागर को नहीं मिला गेंदबाजों का साथ

गेंदबाजी पर आने के साथ ही स्पिनर मयंक डागर ने जल्दी-जल्दी 3 विकेट लेकर टीम इंडिया की मैच में बेहतरीन वापसी कराई लेकिन दूसरे गेंदबाजों से उन्हें साथ नहीं मिला. डागर ने 10 ओवर का कोटा पूरा करते हुए महज 25 रन दिए. अवेश खान और खलील अहमद को एक-एक विकेट मिला. दूसरी बार फाइनल में खेल रहे वेस्टइंडीज के पांच रन 77 रन गिर गए थे. लेकिन इसके बाद भारतीय गेंदबाज मैच में वापसी नहीं कर पाए.

गंवाए आसान मौके
टीम इंडिया मैच में फिर से वापसी कर भी लेती अगर गेंदबाजों को फील्डरों का साथ मिलता. भारत ने मैच में कई मौके गंवाए. इनमें से कुछ कैच तो आसानी से पकड़े जा सकते थे.

अगर इन आसान मौकों को भारत अपने हाथों में समेट लेता तो यकीनन भारत चौथी बार विश्व कप विजेता होता और द्रविड़ का सपना भी पूरा हो जाता.

Sports News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: west indies beat india in u-19 final
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017