भारतीय महिला हॉकी टीम को खल रही ड्रैग फ्लिकर की कमी

By: | Last Updated: Friday, 26 June 2015 12:25 PM
women_hockey

एंटवर्प: लीग मैच में विश्व कप रजत पदक विजेता आस्ट्रेलिया से भिड़ने की तैयारी कर रही भारतीय महिला हॉकी टीम को यहां विश्व लीग सेमीफाइनल्स में पेनल्टी कार्नर के लिए अच्छे ड्रैग फ्लिकर की कमी खल रही है.

 

अच्छे ड्रैग फ्लिकर की गैरमौजूदगी में महिला टीम को वैरिएशंस पर ध्यान देना पड़ रहा है.

 

टीम के कोच माथियास आहरेंस ने कहा, ‘‘हमारे पास पेनल्टी कार्नर के लिए ड्रैग फ्लिकर नहीं है लेकिन विरोधी के गोल को खतरे में डालने के लिए हमारे पास अन्य कौशल हैं.’’

 

इस साल मई में टीम के साथ जुड़ने वाले इस कोच ने कहा, ‘‘ड्रैग फ्लिक ऐसा कौशल है जिसमें सुधार में समय लगता है और टूर्नामेंट से पहले ट्रेनिंग शिविर के दौरान मैंने ट्रेनिंग शिविर में अच्छे ड्रैग फ्लिकर देखे थे.’’

 

उन्होंने कहा, ‘‘अंडर 21 खिलाड़ियों में एक ठीक ठाक ड्रैग फ्लिकर है लेकिन अभी उसके कौशल को शीर्ष अंतरराष्ट्रीय स्तर पर आजमाना जल्दबाजी होगी.’’ अहरेंस ने कहा कि मौजूदा टीम पेनल्टी कार्नर पर अभी की तुलना में विरोधी टीम के लिए अधिक खतरा पैदा कर सकती है.

Sports News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: women_hockey
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: Hockey HWL Team India Women
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017