भारत, ऑस्ट्रेलिया और साउथ अफ्रीका है विश्व कप की दावेदार: चैपल

By: | Last Updated: Sunday, 7 September 2014 11:00 AM

नई दिल्ली: पूर्व ऑस्ट्रेलियाई कप्तान इयान चैपल का मानना है कि अगले साल होने वाले विश्व कप में मौजूदा चैंपियन भारत, ऑस्ट्रेलिया और साउथ अफ्रीका खिताब के प्रबल दावेदार हैं. चैपल ने ‘ईएसपीएनक्रिकइन्फो’ में अपने कॉलम में लिखा, ‘‘टीमें अगले साल होने वाले विश्व कप की तैयारियों के चरण में पहुंच गयी हैं और ऐसा लगता है कि तीन बड़े नाम तैयारी के लिहाज से काफी आगे हैं जबकि एक शुरूआती दौर में बाहर होने की स्थिति में दिख रही है. ’’

 

उन्होंने कहा, ‘‘ऑस्ट्रेलिया, भारत और साउथ अफ्रीका में से कोई विजेता बन सकता है और सफलता में कप्तानी की भूमिका अहम होगी. वेस्टइंडीज छुपा रूस्तम है. जहां तक इंग्लैंड का सवाल है तो कप्तानी की वजह से उसके काले दिन आगे भी जारी रह सकते हैं. ’’ क्रिकेटर से कमेंटेटर बने चैपल ने कहा कि भारत और ऑस्ट्रेलिया अच्छी स्थिति में हैं क्योंकि उनके पास दमदार कप्तान हैं. उन्होंने कहा कि महेंद्र सिंह धोनी में टेस्ट कप्तान के रूप में स्पष्ट खामियां नजर आती हैं लेकिन खेल के छोटे प्रारूपों में वह बेहतरीन कप्तान हैं.

 

चैपल ने कहा कि भारत को विश्व कप से पहले कुछ खामियों को दूर करना होगा. उन्होंने कहा, ‘‘यदि भारत आगे तक बढ़ने में सफल रहता है तो सेमीफाइनल में उसका मुकाबला ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सिडनी में हो सकता है. ऐसे में उसके पास लगातार दूसरे फाइनल में पहुंचने का बढ़िया मौका रहेगा.’’

 

इंग्लैंड की विश्व कप की तैयारियों के बारे में चैपल ने कहा कि लगता है कि वे अपनी मजबूत बल्लेबाजी लाइन अप को लेकर अनिश्चित हैं और वनडे बल्लेबाजी में पुराना थका हुआ फॉर्मूला अपना रहे हैं. उन्होंने कहा, ‘‘भारत के खिलाफ जिस तरह से उन्होंने खेल दिखाया लगता था कि जैसे कि वह देर से रात का भोजन करने से बचना चाहते हैं.

 

एलिस्टेयर कुक का भले ही मानना है कि ग्रीम स्वान की यह टिप्पणी कि ‘इंग्लैंड की विश्व कप जीतने की कोई संभावना नहीं है’ मददगार नहीं होगी लेकिन इसका मतलब यह नहीं है यह टिप्प्णी स्वान की ऑफ ब्रेक की तरफ सटीक नहीं है. ’’ चैपल ने कहा कि यदि ऑस्ट्रेलिया के बेपरवाह स्ट्रोक प्लेयर डेविड वार्नर, एरोन फिंच, शेन वाटसन, मिशेल मार्श और ग्लेन मैक्सवेल का बल्ला चलता है तो फिर 300 से अधिक स्कोर बनना तय है.

 

उन्होंने कहा, ‘‘किसी भी अन्य टीम में इतने अधिक विस्फोटक बल्लेबाज नहीं है और ऑस्ट्रेलिया को पिचों को लेकर चिंता नहीं करनी चाहिए. आस्ट्रेलिया चाहेगा कि माइकल क्लार्क प्रतियोगिता के लिये पूरी तरह फिट रहें. उनकी पीठ उन्हें लगातार परेशान कर रही है. ’’ तीसरी दावेदार टीम साउथ अफ्रीका के बारे में चैपल ने कहा कि वह अच्छी टीम है लेकिन उसे अब भी ऑलराउंडर जैक कैलिस के दोहरे योगदान की कमी खल रही है. उन्होंने कहा, ‘‘उनकी अनुपस्थिति से टीम का संतुलन गड़बड़ा गया है और अब बल्लेबाजी में उसका दारोमदार एबी डिविलियर्स, हाशिम अमला और फाफ डुप्लेसिस तथा गेंदबाजी में डेल स्टेन पर टिक गया है. मोर्ने मोर्कल और वायने पर्नेल जैसे गेंदबाज लगातार एक जैसा प्रदर्शन नहीं कर सकते हैं और नाकआउट चरण में एक बुरा दिन सारा खेल बिगाड़ सकता है. ’’

Sports News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: world cup 2015
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017