विश्व चैम्पियनशिप: भारतीय चुनौती की अगुआई करेंगी सिंधू और साइना

By: | Last Updated: Sunday, 24 August 2014 10:29 AM
world cup badminton

कोपेनहेगन: भारतीय बैडमिंटन टीम विश्व कप में कल से यहां अपने अभियान की शुरूआत करेंगी तो पीवी सिंधू की नजरें अपने पदक को बेहतर करने पर टिकी होंगी जबकि फिट हो चुकी साइना नेहवाल पोडियम पर जगह बनाने की कोशिश करेंगी.

 

ग्लास्गो राष्ट्रमंडल खेलों में कांस्य पदक जीतने वाली सिंधू फाइनल में जगह बनाने की कोशिश करेंगी जिससे कि पिछले साल विश्व चैम्पियनशिप के अपने कांस्य पदक में सुधार कर सकें. सिंधू विश्व चैम्पियनशिप की व्यक्तिगत स्पर्धा में कांस्य पदक जीतने वाली पहली भारतीय महिला एकल खिलाड़ी हैं.

 

साइना ने जून में ऑस्ट्रेलिया ओपन में खिताब जीतने के दौरान पैर में लगी चोट के बाद वापसी की है. इस चोट के कारण वह राष्ट्रमंडल खेलों में हिस्सा नहीं ले पाई थी.

 

साइना ने टूर्नामेंट से पहले कहा, ‘‘जुलाई के अंत तक मैं आस्ट्रेलियाई ओपन के दौरान लीग चोट से पूरी तरह नहीं उबर पाई थी. इससे मेरी ट्रेनिंग पर असर पड़ा लेकिन पिछले तीन हफ्ते में मैंने कड़ी मेहनत की है और मुझे लगता है कि इस टूर्नामेंट में मैं अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करूंगी.’’ भारत की शीर्ष खिलाड़ी सातवीं वरीय साइना को पहले दौर में बाई मिला है और वह मंगलवार को दूसरे दौर में अपने अभियान की शुरूआत न्यूजीलैंड की अन्ना रेनकिन और रूस की नतालिया पर्मिनोवा के बीचे होने वाले मैच की विजेता के खिलाफ करेंगी.

 

ग्यारहवीं वरीय सिंधू को भी पहले दौर में बाई मिला है और वह दूसरे दौर में रूस की ओल्गा गोलोवानोवा और बुल्गारियां की लिंडा जेटचेरी के बीच होने वाले मैच की विजेता से भिड़ेंगी.

 

पुरूष एकल में राष्ट्रमंडल खेलों के स्वर्ण पदक विजेता पारूपल्ली कश्यप भारत की ओर से पदक के सबसे प्रबल दावेदार होंगे. उन्हें कल पहले दौर में जर्मनी के दिएतर डोम्के का सामना करना है. भारत के अजय जयराम को अपने पहले मैच में जापान के चौथे वरीय कैनेची टैगो का सामना करना है जबकि के श्रीकांत की भिड़ंत पहले दौर में स्लोवानिया के इजतोक उत्रोसा से होगी.

 

वर्ष 2011 की विश्व चैम्पियनशिप में कांस्य पदक जीतने वाली ज्वाला गुट्टा और अश्विनी पोनप्पा की जोड़ी एक बार फिर पदक की दावेदार होंगी. इस जोड़ी को पहले राउंड में बाई मिला है.

 

ज्वाला और अश्विनी को हालांकि दूसरे दौर में क्विंग टियान और युनलेई झाओ की चीन की पांचवीं वरीय जोड़ी की कड़ी चुनौती का सामना करना होगा.

 

प्राजक्ता सावंत और आरती सारा सुनील भी महिला युगल में भारत का प्रतिनिधित्व करेगी. इस जोड़ी को कल पहले दौर में पुतिता सुबारजिराकुल और सापश्री तेरातानचाई की थाईलैंड की जोड़ी से भिड़ना है.

 

पुरूष युगल में भी भारत की दो जोड़िया होंगी. अक्षय देवालकर और प्रणव जैरी चोपड़ा अपने अभियान की शुरूआत युन लुंग चान और चुन हेई ली की चीन की जोड़ी के खिलाफ करेंगे जबकि सुमित रेड्डी बी और मनु अत्री को रूस के निकिता खाकिमोव और वैसिली कुजनेत्सोव का सामना करना है.

 

मिश्रित युगल में अश्विनी और तरूण कोना को स्थानीय दावेदार आंद्रेस क्रिस्टियनसेन और जूली होमान से भिड़ना है जबकि अरूण विष्णु और अपर्णा बालन अपने अभियान की शुरूआत ह्यूगो आथरुसो और फाबियाना सिल्वा की ब्राजील की जोड़ी के खिलाफ करेंगे.

Sports News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: world cup badminton
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017