एशियन गेम्स: योगेश्वर ने 28 साल बाद कुश्ती में दिलाया स्वर्ण

By: | Last Updated: Monday, 29 September 2014 3:34 AM
Yogeshwar ends 28-year gold drought in wrestling

इंचियोन (दक्षिण कोरिया): भारत के स्टार पहलवान योगेश्वर दत्त ने रविवार को 17वें एशियाई खेलों में इतिहास रचते हुए 28 वर्षो बाद एशियाई खेलों में भारत को कुश्ती का स्वर्ण दिला दिया. योगेश्वर के स्वर्ण के अलावा एथलेटिक्स में खुशबीर कौर ने शानदार प्रदर्शन करते हुए महिलाओं की 20 किलोमीटर रेस में दूसरे स्थान पर रहते हुए रजत पदक हासिल किया. भारत ने रविवार को कुल आठ पदक हासिल किए और पदक तालिका में लगातार दूसरे दिन छलांग लगाते हुए शीर्ष 10 में प्रवेश कर लिया.

 

खुशबीर कौर के अलावा भारतीय एथलीटों ने तीन कांस्य पदक दिलाए. राजीव आरोकिया और एम. पोवम्मा ने क्रमश: पुरुषों और महिलाओं की 400 मीटर स्पर्धा में कांस्य जीता, जबकि मंजू बाला ने गोला फेंक में कांस्य दिलाया.

 

भारतीय टेनिस खिलाड़ियों ने भी शानदार प्रदर्शन करते हुए रविवार को तीन कांस्य पदक पर कब्जा किया, जबकि दो रजत पदक भी पक्के कर दिए.

 

लंदन ओलम्पिक में कांस्य और पिछले दो राष्ट्रमंडल खेलों में लगातार दो स्वर्ण जीतने वाले स्टार भारतीय पहलवान योगेश्वर दत्त ने अपनी स्वर्णिम सफलता को जारी रखते हुए रविवार को 17वें एशियाई खेलों की फ्रीस्टाइल कुश्ती स्पर्धा के 65 किलोग्राम वर्ग में स्वर्ण जीता.

 

महिला वर्ग में बबीता कुमारी और पुरुष वर्ग में सत्यव्रत कादियान ने निराश किया. दोनों अपना-अपना कांस्य पदक का मुकाबला हार गए.

 

योगेश्वर ने डोवोन जिम्नेजियम में हुए फाइनल में ताजिकिस्तान के जालिमखान युसुपोव को 3-0 से पराजित किया और 17वें एशियाई खेलों में भारत को कुश्ती का पहला स्वर्ण पदक दिलाया.

 

दूसरी ओर पुरुषों की फ्रीस्टाइल स्पर्धा के 97 किलोग्राम वर्ग में कांस्य पदक के लिए हुए मुकाबले में कादियान कजाकिस्तान के मामेद इब्रामिगोव से 0-3 से हार गए.

 

कांस्य जीतने वाली विनेश फोगट की बड़ी बहन और ग्लासगो राष्ट्रमंडल खेलों में स्वर्ण पदक जीतने वाली बबीता से काफी उम्मीदें थीं. लेकिन बबीता महिला वर्ग की फ्रीस्टाइल स्पर्धा के 55 किलोग्राम वर्ग में कांस्य पदक के लिए हुए मुकाबले में चीन की श्यूचुन झोंग से एकतरफा मुकाबले में 1-3 से हार गईं. बबीता के दो के मुकाबले झोंग ने 10 अंक हासिल किए.

 

एथलेटिक्स में भारत के लिए दिन की पहली खुशखबरी महिला धाविका खुशबीर ने दिलाई. कौर ने 20 किलोमीटर पैदल चाल स्पर्धा में एक घंटा 33 मिनट और 07 सेकेंड समय के साथ दूसरा स्थान हासिल करते हुए रजत पदक जीत लिया. स्पर्धा का स्वर्ण चीन की जियूझी लियू और कांस्य कोरिया की योनगियोन जियोन ने जीता.

 

भारत को हालांकि पुरुषों की 20 किलोमीटर पैदल चाल स्पर्धा में इरफान थोडी और गणपति कृष्णन ने निराश किया. इरफान इस स्पर्धा में पांचवें स्थान पर रहे. दूसरी ओर, मैराथन कोर्स में आयोजित इस रेस में गणपति कोई समय नहीं दर्ज करा पाए क्योंकि वह रेस के दौरान अयोग्य करार दिए गए.

 

पुरुषों की 400 मीटर स्पर्धा में राजीव आरोकिया ने कांस्य जीता. इंचियोन एशियाड मेन स्टेडियम में हुए स्पर्धा के फाइनल रेस में राजीव ने व्यक्तिगत सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करते हुए 45.92 सेकेंड समय के साथ तीसरा स्थान हासिल किया.

 

सऊदी अरब के यूसुफ अहमद ने एशियाई खेलों में नया कीर्तिमान रचते हुए 44.46 सेकेंड के साथ स्वर्ण पर कब्जा जमाया. स्पर्धा का रजत बहरीन के अब्बास अबुबकर ने हासिल किया.

 

फाइनल में प्रवेश करने वाले एक अन्य भारतीय धावक मोहम्मद कुन्हु हालांकि प्रभावी प्रदर्शन नहीं कर सके और 46.53 सेकेंड के साथ सातवें स्थान पर रहे.

 

दूसरी ओर, भारतीय धाविका पोवम्मा ने महिला वर्ग की 400 मीटर स्पर्धा में 52.36 सेकेंड का समय निकालते हुए कांस्य पदक हासिल किया. स्पर्धा का स्वर्ण बहरीन की ओलुवाकेमी मुजिदात अदेकोया (51.59 सेकेंड) ने, जबकि वियतनाम की थि लान क्वाच (52.06 सेकेंड) ने रजत पदक हासिल किया.

 

भारत के लिए गोला फेंक स्पर्धा से भी एक कांस्य पदक आया. महिला एथलीट मंजू बाला ने इंचियोन एशियाड मेन स्टेडियम में पहले ही प्रयास में 60.47 मीटर की दूरी नापी थी और यह उन्हें कांस्य पदक दिलाने के लिए काफी साबित हुआ. चीन की वेनजियू झांग ने 77.33 मीटर के साथ स्वर्ण और चीन की ही झेंग वांग ने 74.16 मीटर के साथ रजत जीता.

 

भारतीय टेनिस स्टार सानिया मिर्जा-प्रार्थना थोंबारे की जोड़ी ने महिला युगल, युकी भांबरी-दिविज शरण की जोड़ी ने पुरुष युगल और युकी भांबरी ने पुरुष एकल वर्ग में कांस्य दिलाया. इसके अलावा सानिया और साकेत की जोड़ी के मिश्रित युगल और साकेत-युकी की जोड़ी के पुरुष युगल के फाइनल में प्रवेश करने के साथ ही भारत की झोली में दो और रजत पदक आने तय हो गए हैं.

 

भारत को टेनिस में दिन का पहला पदक भांबरी ने दिलाया. चौथे वरीय भांबरी पुरुष एकल स्पर्धा के सेमीफाइनल में पांचवें वरीय जापान के याशिहीतो निशियोका से 3-6, 6-2, 6-1 से हार गए और उन्हें कांस्य पदक से संतोष करना पड़ा.

 

सानिया और प्रार्थना की भारतीय महिला युगल जोड़ी भी रविवार को महिला युगल के सेमीफाइनल में चीनी ताइपे की वी चीन चान और वी सु शी की जोड़ी से 6-7(1-7), 6-2, 4-10 से हार गई और उनका सफर कांस्य पर थम गया.

 

सानिया के लिए हालांकि अभी टूर्नामेंट का सफर पूरी तरह नहीं थमा है. सानिया ने साकेत के साथ मिश्रित युगल वर्ग में शानदार प्रदर्शन करते हुए चीन की जेई झेंग और जी झांग की जोड़ी को सीधे सेटों में 6-1, 6-3 से हराकर फाइनल में प्रवेश कर लिया. इसके साथ ही सानिया-साकेत ने रजत पक्का कर दिया.

 

साकेत ने इसके बाद रविवार को दोहरी सफलता हासिल करते हुए सनम सिंह के साथ पुरुष युगल स्पर्धा के भी फाइनल में प्रवेश कर लिया. साकेत-सनम की पांचवीं वरीय भारतीय जोड़ी ने शानदार प्रदर्शन करते हुए शीर्ष वरीय थाईलैंड के सनचाई और सोनचात रातिवातना को एक घंटे सात मिनट में 4-6, 6-3, 10-6 से हरा दिया.

 

एकल में हार कांस्य जीतने के बाद भांबरी, दिविज शरण के साथ पुरुष युगल के सेमीफाइनल में भी कोरियाई जोड़ी से हार गए. कोरिया के योंगक्यू लिम और हियोन चुंग ने भांबरी और शरण को 6-7, 7-6, 11-9 से हराया.

 

मुक्केबाजी में भी भारतीय खिलाड़ियों ने शानदार प्रदर्शन किया. रविवार को रिंग में उतरे सभी भारतीय मुक्केबाजों ने जीत हासिल करते हुए भारत के लिए कम से कम तीन पदक पक्के कर दिए.

 

भारत की स्टार महिला मुक्केबाज मैरीकॉम सहित एल. सरिता देवी और पूजा रानी ने अपने-अपने क्वार्टर फाइनल मुकाबले जीत लिए और सेमीफाइनल में प्रवेश कर लिया.

 

पुरुष वर्ग में रविवार को रिंग में उतरे एकमात्र भारतीय मुक्केबाज देवेंद्रो सिंह लैशराम ने भी क्वार्टर फाइनल में प्रवेश कर लिया और पदक की उम्मीदें जिंदा रखीं.

 

सियोनहाक जिम्नेजियम में मैरीकॉम ने फ्लाईवेट (48-51) स्पर्धा के क्वार्टर फाइनल मुकाबले में चीन की सि हायजुआन को 3-0 से हरा दिया. सेमीफाइनल में मैरीकॉम अब वियतनाम की ली ती बांग से मंगलवार को भिड़ेंगी.

 

सरिता देवी ने भी लाइट स्पर्धा (57-60 किलोग्राम) के क्वार्टर फाइनल में मंगोलिया की सुव्ड एर्डेने ओयुंगेरेल को एकतरफा मुकाबले में 3-0 से मात दे दी. सरिता देवी अब सेमीफाइनल मुकाबले में मंगलवार को मेजबान दक्षिण कोरिया की जिना पार्क से भिड़ेंगी.

 

महिला वर्ग के मीडिल वेट (69-75 किलोग्राम) स्पर्धा में पूजा रानी ने चीनी ताइपे की फ्लोरे डारा शेन को 3-0 से हराकर सेमीफाइनल में प्रवेश कर पदक पक्का कर लिया. पूजा अब सेमीफाइनल में मंगलवार को ही चीन की ली कियान का सामना करेंगी.

 

मुक्केबाजी में भारत के लिए दिन का आखिरी मैच देवेंद्रो सिंह खेलने उतरे. देवेंद्रो ने प्री-क्वार्टर फाइनल मुकाबले में शानदार प्रदर्शन करते हुए लाइट फ्लाई स्पर्धा के क्वार्टर फाइनल में प्रवेश किया.

 

लैशराम ने स्पर्धा के 46-49 किलोग्राम वर्ग में लाओस के बूनफोन लासावोंग्जी को हराया. देवेंद्रो ने केवल 1.27 सेकेंड में जीत हासिल की. दरअसल, लासावोंग्जी टेक्निकल नॉकआउट के तहत पहले राउंड में ही बाहर हो गए और मुकाबला जारी नहीं रख सके. क्वार्टर फाइनल में देवेंद्रो मंगलवार को दक्षिण कोरिया के जोनघुन शिन से भिड़ेंगे.

Sports News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Yogeshwar ends 28-year gold drought in wrestling
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: Asian Games yogeshwar dutt
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017