कोलकाता की सड़कों पर 'हरे कृष्णा' की गूंज

By: | Last Updated: Wednesday, 28 August 2013 8:34 AM
कोलकाता की सड़कों पर ‘हरे कृष्णा’ की गूंज

<p style=”text-align: justify;”>
<span style=”line-height: 1.3em;”><b>कोलकाता: </b>कोलकाता
शहर में बुधवार को कृष्ण
जन्माष्टमी पूरे हर्षोल्लास
के साथ मनाया जा रहा है. इस
अवसर पर जगह-जगह भगवान कृष्ण
की मूर्तियां स्थापित की गई
हैं और नृत्य-नाटक एवं सत्संग
का आयोजन किया जा रहा है. शहर
में कृष्ण के 5,239वें जन्मदिन
का मुख्य आकर्षण मारवाड़ी,
गुजराती और बिहारी समुदाय के
परिवारों द्वारा तैयार की गई
झांकी है. </span>
</p>
<p style=”text-align: justify;”>
शहर के मध्य में स्थित
गुरुसाडे रोड पर इंटरनेशनल
सोसायटी आफ कृष्णा
कांसियसनेस (इस्कॉन) द्वारा
तैयार पारंपरिक झांकियों
में वृंदावन में बड़े से झूले
में झूलते भगवान कृष्ण के बाल
रूप को दिखाया गया है, जिसे
देखने के लिए हजारों लोगों की
भीड़ उमड़ी.
</p>
<p style=”text-align: justify;”>
इस्कॉन के राधाराम दास ने
आईएएनएस से कहा, “उत्सव 4.30 बजे
सुबह से शुरू हुआ है और पूरे
दिन प्रसाद वितरित किया
जाएगा. मध्यरात्रि के बाद
श्रद्धालुओं के बीच राजभोग
वितरित किया जाएगा.”
</p>
<p style=”text-align: justify;”>
एक मारवाड़ी व्यवसायी विनय
श्रॉफ ने कहा, “हमारे 22
सदस्यों का संयुक्त परिवार
है और हम हर साल झांकी
निकालते हैं. इस साल भी हम
झांकी निकालेंगे और इसमें
लावारिस बच्चों ने भी हमारी
मदद की है.”
</p>
<p style=”text-align: justify;”>
श्रद्धालुओं ने यहां एक
दूसरे के माथे पर गुलाल लगा
कर ‘हरे कृष्ण’ का पारंपरिक
उद्घोष किया. यहां लोग भजन के
कार्यक्रमों में भी शिरकत कर
रहे हैं और हर समुदाय के
लोगों के बीच राजभोग बांटे जा
रहे हैं. धार्मिक महत्व की
वजह से दही की बिक्री बड़े
पैमाने पर हुई है. 
</p>
<p style=”text-align: justify;”>
बारिश को मात देते हुए कृष्ण
भक्तों ने पारंपरिक दही
हांडी का भी आयोजन किया.
भगवान को लस्सी का प्रसाद
चढ़ाने के बाद इसे
श्रद्धालुओं के बीच वितरित
किया गया.
</p>

Television News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: कोलकाता की सड़कों पर ‘हरे कृष्णा’ की गूंज
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017