Azamgarh police arrested four rewarded criminal in encounter

पुलिस के आगे बदमाशों के हौसले पस्त, आजमगढ़ में 4 इनामी गिरफ्तार

एएसपी सिटी ने बताया कि पकड़े गए दोनों बदमाश 25 हजार रुपए के इनामी हैं, जिन्होंने पूछताछ में बताया कि वह अपने साथी पंकज यादव और मुन्ना उर्फ तिलकराज सिंह से मिलने जा रहे थे. इस सूचना पर पुलिस ने सभी थानों की पुलिस को अलर्ट कर दिया.

By: | Updated: 17 Apr 2018 09:41 AM
Azamgarh police arrested four rewarded criminal in encounter

आजमगढ़: उत्तर प्रदेश की आजमगढ़ पुलिस ने रविवार तड़के जनपद के दो अलग-अलग थाना क्षेत्रों में हुई मुठभेड़ों में दो बदमाशों को घायल कर चार 25 हजार के इनामी बदमाशों को गिरफ्तार किया. वहीं एक पुलिस कर्मी भी मुठभेड़ में जख्मी हो गया. तीनों घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है. बदमाशों के पास से दो पिस्टल और बाइक बरामद हुई है.


रविवार को एडीशनल एसपी (सिटी) सुभाष चंद्र गंगवार ने बताया कि रानी की सराय थाना क्षेत्र पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर चेकिंग के दौरान एक बाइक सवार तीन में से दो बदमाशों अमरजीत यादव और रवि साहू निवासी गण थाना मेंहनगर को पटेल नगर के पास पकड़ा था, जिन्होंने फरार हुए साथी का नाम सोनू उर्फ अबू सूफियान बताया था.


एएसपी सिटी ने बताया कि पकड़े गए दोनों बदमाश 25 हजार रुपए के इनामी हैं, जिन्होंने पूछताछ में बताया कि वह अपने साथी पंकज यादव और मुन्ना उर्फ तिलकराज सिंह से मिलने जा रहे थे. इस सूचना पर पुलिस ने सभी थानों की पुलिस को अलर्ट कर दिया.


बदमाशों से मिली जानकारी पर पुलिस की रविवार सुबह 07 बजे गंभीरपुर थाना क्षेत्र के गोसाई बाजार के पास मुठभेड़ हो गई. जहां पहले से ही चेंकिंग कर रही पुलिस ने एक बाइक पर आ रहे दो बदमाशों को रोकने की कोशिश की. पुलिस के देख बदमाशों ने फायरिंग की, जिसकी गोली से सिपाही को लगी, लेकिन बुलेट प्रूफ जैकेट पहने होने कारण सिपाही बच गया.


पुलिस की जवाबी फायरिंग में 25 हजार का इनामी पंकज यादव निवासी थाना मेंहनगर पैर में गोली लगने से जख्मी हो गया, जिसे पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया. बदमाश के पास से पिस्टल 32 बोर, 02 खोखा कारतूस 32 बोर, 1 जिंदा कारतूस 32 बोर, लूट का 5500 रूपया बरामद हुआ. वहीं उसका साथी मुन्ना उर्फ तिलकराज सिंह फरार हो गया, जिसे पुलिस ने रानी की सराय थाना क्षेत्र स्थि आजमगढ़ पब्लिक स्कूल के पास नहर पुलिया पर घेरा.


पुलिस से बचने के लिए मुन्ना ने फायरिंग की, जिसमें सिपाही मनोज शर्मा हाथ में गोली लगने से घायल हो गया. पुलिस की जवाबी फायरिंग में तिलकराज सिंह उर्फ मुन्ना घायल हो गया.


एएसपी ने बताया कि पकड़ा गया मुन्ना भी 25 हजार रुपए का इनामी है. बदमाश के पास से पिस्टल 32 बोर, दो कारतूस, एक मोटरसाइकिल बरामद हुई है. उन्होंने बताया कि दोनों मुठभेड़ में घायल तीनों लोगां को अस्पताल पहुंचाया गया है. जहां सें आरक्षी व बदमाश को बीएचयू वाराणसी रेफर किया गया है.


उन्होंने बताया कि गिरफ्तार चारों बदमाशों ने पूछताछ में बताया कि उन लोगों ने ही रानी की सराय क्षेत्र में जनसेवा केंद्र के व्यापारी से हुई एक लाख की लूट को अंजाम दिया था. इसके अलवा बदमाशों ने थाना गम्भीरपुर में हुई दो 30 हजार की लूट और व्यवसरी को गोली मार कर लूट के प्रयास की वारदात को स्वीकार किया.


बदमाशों ने सिधारी में हुई 60 हजार की लूट समेत जनपद बलिया, मऊ, गाजीपुर व आस-पास के जनपदों में लूट, छिनैती की घटनाओं को अंजाम देना स्वीकार किया है. एएसपी ने बताया कि गिरफ्तार किए गए चारों बदमाश 25-25 हजार के शातिर इनामी और अंतरजनपदीय अपराधी हैं.

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title: Azamgarh police arrested four rewarded criminal in encounter
Read all latest Uttar Pradesh News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story यूपी विधान परिषद में बना रहेगा SP का बहुमत, BJP को करना होगा तीन साल का इंतजार