BJP MP from Bahraich Savitribai Phule targeted her own government over compensation to people killed during the bandh

बंद के दौरान मारे गए लोगों के मुद्दे पर सावित्रीबाई फुले ने अपनी ही सरकार पर साधा निशाना

लखनऊ प्रेस क्लब में बीजेपी सांसद सावित्रीबाई फुले ने पत्रकारों से कहा कि जो लोग भारत बंद के दौरान मारे गए हैं, सरकार उन्हें 50-50 लाख रुपये मुआवजा और उनके परिवार के एक सदस्य को नौकरी दे.

By: | Updated: 12 Apr 2018 10:42 AM
BJP MP from Bahraich Savitribai Phule targeted her own government over compensation to people killed during the bandh

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के बहराइच से भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) की सांसद सावित्रीबाई फुले ने बुधवार को अपनी ही सरकार पर निशाना साधा और कहा कि राज्य सरकार भारत बंद के दौरान मारे गए लोगों को 50-50 लाख रुपए मुआवजा दे. लखनऊ प्रेस क्लब में बीजेपी सांसद सावित्रीबाई फुले ने पत्रकारों से कहा कि जो लोग भारत बंद के दौरान मारे गए हैं, सरकार उन्हें 50-50 लाख रुपये मुआवजा और उनके परिवार के एक सदस्य को नौकरी दे.


सांसद सावित्रीबाई ने कहा कि पहले एससी-एसटी कानून मजबूत था, और लोग दलितों पर अत्याचार करने से डरते थे, लेकिन अब सुप्रीम कोर्ट के फैसले से दलितों पर अत्याचार बढ़ जाएगा.


सांसद ने कहा, "संविधान के साथ छेड़छाड़ किया जा रहा है, जो उचित नहीं है. दलित समाज किसी भी प्रकार का कोई समझौता नहीं करेगा. इसलिए सरकार को देशहित के लिए काम करना चाहिए."


उन्होंने कहा कि "बेकसूर लोगों को पुलिस जेल में डालकर उनका जीवन बर्बाद कर रही है. भारत बंद के दौरान पुलिस ने भी गाड़ियां तोड़ी हैं, इसलिए पुलिस के खिलाफ भी कार्रवाई होनी चाहिए. सरकार अपराध पर अंकुश नहीं लगा पा रही है, इसीलिए अपराधियों का मनोबल बढ़ रहा है."


उन्होंने भारत बंद के दौरान जिन लोगों के खिलाफ मुकदमे दर्ज किए गए हैं, उन्हें वापस लेने और दो अप्रैल को बहुजन स्वाभिमान दिवस के रूप में मनाने की मांग की है.

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title: BJP MP from Bahraich Savitribai Phule targeted her own government over compensation to people killed during the bandh
Read all latest Uttar Pradesh News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story यूपी विधान परिषद की सभी 13 सीटों पर निर्विरोध चुने गए सदस्य