Viral audio opens the secret fake encounters in Uttar Pradesh

यूपी में हो रहा है इनकाउंटर का सौदा, दारोगा ने कहा कर लो बीजेपी जिलाध्यक्ष से सेटिंग नहीं तो मार दिए जाओगे

ऑडियो में झांसी के मऊरानीपुर कोतवाल सुनीत कुमार सिंह पूर्व ब्लॉक प्रमुख से कहता है कि अगर वो बचना चाहता है तो बीजेपी विधायक राजीव सिंह पारीछा और बीजेपी के जिलाध्यक्ष से सेटिंग कर ले. ये वीडियो वायरल होने के बाद डीजीपी ने कोतवाल सुनीत कुमार सिंह को सस्पेंड कर दिया है.

By: | Updated: 16 Apr 2018 02:13 PM
Viral audio opens the secret fake encounters in Yogi government at Uttar Pradesh

झांसी: उत्तर प्रदेश में सत्ता के दबाव में पुलिस कैसे फर्जी इनकाउंटर का खेल खेल रही है, उसका एक ऑडियो सबूत सामने आया है. झांसी के मऊरानीपुर के कोतवाल सुनीत कुमार सिंह और समाजवादी पार्टी के पूर्व ब्ल़ॉक प्रमुख लेखराज सिंह यादव की बातचीत का एक ऑडियो वायरल हो रहा है जिसमें सुनीत कुमार सिंह लेखराज को बता रहा है कि उसके ऊपर इनकाउंटर का दवाब है. कोतवाल पूर्व ब्लॉक प्रमुख से कहता है कि अगर वो बचना चाहता है तो बीजेपी विधायक राजीव सिंह पारीछा और बीजेपी के जिलाध्यक्ष से सेटिंग कर ले. ये ऑडियो वायरल होने के बाद डीजीपी ने कोतवाल सुनीत कुमार सिंह को सस्पेंड कर दिया है.


दिलचस्प बात ये है कि दो दिन पहले झांसी के मऊरानीपुर के कोतवाल सुनीत कुमार सिंह ने समाजवादी पार्टी के पूर्व ब्लॉक प्रमुख लेखराज सिंह यादव के घर पर दिखावे के लिए छापेमारी की  जिसमें लेखराज के लोगों के साथ मुठभेड़ में कोतवाल साहब जख्मी भी हो गए.


इस ऑडियो में सुना जा सकता है कि कैसे झांसी की मऊरानीपुर कोतवाली के इंचार्ज सुनीत कुमार सिंह झांसी के बंगरा के पूर्व एसपी ब्लॉक प्रमुख लेखराज सिंह से उसके इनकाउंटर करने से पहले बात कर रहे हैं कि उसे मार देंगे. हालांकि ले देकर मामला सुल्टा ले तो खत्म हो जाएगा. खास बात यह है जब पुलिस से लेन देन नहीं हो पाया तो बीते दिन पुलिस ने मुठभेड़ दिखा दी और उसमें इंस्पेक्टर को गोली लगना बताया गया. जबकि इंस्पेक्टर गंभीर रूप से जख्मी नहीं हुए और न ही किसी बड़े अस्पताल में एडमिट हुए.


ऑडियो में इंस्पेक्टर सुनीत सिंह कह रहा है कि वह कई बार जेल जा चुका है उससे बड़ा गुंडा कोई नहीं. बीजेपी के नेताओं को गाली गलौज भी कर रहा है. बता दें कि बीते हफ्ते मऊरानीपुर कोतवाली में बीजेपी के स्थानीय पार्षद ने एसपी के पूर्व ब्लॉक प्रमुख लेखराज सिंह और उसके बेटों पर रंगदारी का मुकदमा दर्ज कराया था. इसी मामले को लेकर इंस्पेक्टर सुनीत कुमार सिंह ने पूर्व ब्लॉक प्रमुख लेखराज सिंह से बारगेनिंग की और यूपी में किस तरह से फर्जी मुठभेड़ की जा रही हैं इसका खुलासा भी कर दिया. ऑडियो में वह बीजेप जिलाध्यक्ष संजय दुबे और बबीना विधायक राजीव सिंह पारीछा का जिक्र भी कर रहा है.


इस मामले में बीजेपी के बबीना विधायक सामने आए हैं कि उन्होंने इस ऑडियो की जांच के बाद सख्त कार्रवाई की बात कही है. फरार चल रहे आरोपी ब्लॉक प्रमुख लेखराज सिंह ने यूट्यूब के जरिए अपना बयान दिया है जिसमें वह कह रहा है कि उसे अपराधी पुलिस ने बनाया पुलिस ने उसपर अकारण 35 मुकदमे लाद दिए. इस लिए उसके मुकदमों की संख्या 60 के पार पहुंच गई.

डीआईजी झांसी रेंज जवाहर ने मऊरानीपुर इंस्पेक्टर वीडियो वायरल होने के मामले में बहुत बड़ी कार्रवाई के संकेत दिए हैं. डीआईजी ने कहा कि उन्हें यह जानकारी सोशल मीडिया के जरिए मिली. बता दें कि बीते रोज पुलिस सूत्रों से खबर मिली थी कि मऊरानीपुर पुलिस और एसपी के पूर्व ब्लॉक प्रमुख बंगरा लेखराज सिंह यादव के बीच मुठभेड़ हो गई.


घंटों बाद दोनों की बातचीत का ऑडियो वायरल हुआ जिसमें कथित पुलिस वाला खुद को बहुत बड़ा गुंडा कह रहा है. एसएसपी झांसी विनोद कुमार सिंह ने इस मामले का संज्ञान लेते हुए इंस्पेक्टर सुनीत सिंह को सस्पेंड कर दिया है. इस ऑडियो के आने के बाद पुलिस हलाकान हैं. झांसी की मऊरानीपुर पुलिस ने कल हुई कथित मुठभेड़ का मामला भी लेखराज सिंह पाल धारा 307 . 148 149 के तहत दर्ज कर लिया है.


फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title: Viral audio opens the secret fake encounters in Yogi government at Uttar Pradesh
Read all latest Uttar Pradesh News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story डांसर पर नोटों की बारिश कांस्टेबल को पड़ गई भारी, सोशल मीडिया पर वायरल हुआ वीडियो