Weightlifter Poonam Yadav won gold medal in the 2018 Commonwealth Games in Gold Coast, Australia

वेटलिफ्टिंग में गोल्डमेडल जीतने वाली पूनम यादव को 50 लाख रुपए और नौकरी देगी योगी सरकार

25 जुलाई 1995 को जन्मी पूनम यादव ऑस्ट्रेलिया के गोल्ड कोस्ट में चल रहे हैं कामनवेल्थ गेम में 69 किलोग्राम भार वर्ग में 220 किलोग्राम भार उठा कर भारत के लिए स्वर्ण पदक जीता.

By: | Updated: 10 Apr 2018 01:09 PM
Weightlifter Poonam Yadav won gold medal in the 2018 Commonwealth Games in Gold Coast, Australia
वाराणसी: वाराणसी की बेटी पूनम यादव द्वारा आस्ट्रेलिया के गोल्ड कोस्ट में जारी राष्ट्रमंडल खेल में भारोत्तोलन में स्वर्ण पदक जीत कर इतिहास रचने पर पूरा गांव और परिवार के लोग बेहद खुश हैं.

बनारस की रहने वाली एक किसान की बेटी पूनम यादव की इस सफलता पर उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ ने 50 लाख रुपये और राजपत्रित अधिकारी की नौकरी देने की घोषणा की है. सरकार की ओर से सम्मान की घोषणा पर पिता कैलाश यादव ने कहा कि 50 लाख रुपए से गांव में नए खिलाड़ियों के लिए वेटलिफ्टिंग के साथ अन्य खेलो के लिए सुविधाए मुहैया कराएंगे. पूनम ने आस्ट्रेलिया से वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए पिता से बात की और परिवार का हालचाल पूछते हुए माता और पिता से आशीर्वाद लिया.कैलाश यादव बेटी की सफलता पर 11 हजार एक सौ 11 यथार्थ गीता लोगो में बांटेंगे.

परिजनों की इस ख़ुशी को जिलाधिकारी योगेश्वर राम मिश्र ने और बढ़ाया जब वह खुद परिजनों को बधाई देने के लिए मिठाई लेकर हरहुआ विकास खण्ड के ग्राम सभा दादूपुर पहुंचे और पूनम के पिता कैलाशनाथ यादव को उनकी बेटी के कामनवेल्थ गेम में वेटलिफ्टिंग का गोल्डमेडल जीतने की मिठाई खिलाकर बधाई दी.

इस दौरान पूनम के पिता कैलाशनाथ यादव ने मुख्य मार्ग से उनके घर तक आ रहे सड़क के मरम्मत की मांग जिलाधिकारी से की. जिलाधिकारी ने सड़क मरम्मत शीघ्र कराये जाने के लिए अधिकारियों को निर्देशित किया. जिलाधिकारी से मिलकर परिजन काफी खुश हुए.

जिलाधिकारी योगेश्वर राम मिश्र ने कह कि बनारस की बेटी पूनम में पूरी दूनिया में बनारस ही नहीं, बल्कि पूरे देश का नाम रोशन किया है. उन्होंने विशेष रूप से जोर देते हुए कहा कि जिले के प्रतिभावान खिलाड़ियों को शासन द्वारा प्रोत्साहन स्वरूप दिए जाने वाली सुविधाएं उन्हे प्राथमिकता पर हर हालत में मुहैया कराई जाएंगी.

25 जुलाई 1995 को जन्मी पूनम यादव ऑस्ट्रेलिया के गोल्ड कोस्ट में चल रहे हैं कामनवेल्थ गेम में 69 किलोग्राम भार वर्ग में 220 किलोग्राम भार उठा कर भारत के लिए स्वर्ण पदक जीता. पूनम पांच बहन और दो भाई हैं. मां उर्मिला देवी गृहणी है और पिता कैलाश नाथ यादव किसान हैं. पूनम पूर्वोत्तर रेलवे के वाराणसी मंडल में टीटी के पद पर तैनात हैं.



पूनम यादव स्नातक स्तर की पढ़ाई महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ से पूरी की है.पूनम ने 2012 से वेटलिफ्टिंग करना शुरू किया था.पूनम को खेलों में सफलता 2014 से मिलना शुरू हुआ जब 2014 ग्लासगो स्कॉटलैंड में आयोजित कॉमनवेल्थ गेम में 63 किलोग्राम वर्ग में पूनम ने कांस्य पदक जीता. उसके बाद पूनम ने 2015 में पुणे में आयोजित कॉमनवेल्थ चैंपियनशिप में 63 किलोग्राम भार वर्ग में स्वर्ण पदक जीता.

उसके बाद पूनम ने 2017 में अमेरिका में आयोजित वर्ल्ड चैंपियनशिप में 69 किलोग्राम भार वर्ग में निवास स्थान प्राप्त किया फिर 2017 गोल्ड कोस्ट में आयोजित कामनवेल्थ चैंपियनशिप में 69 किलोग्राम भार वर्ग में सबको पछाड़ कर स्वर्ण पदक जीता. पूनम यादव इस समय ऑस्ट्रेलिया के गोल्ड कोस्ट में हो रहे कॉमनवेल्थ गेम में है. जहां उन्होंने 21 वे कॉमनवेल्थ गेम में 69 किलोग्राम भार वर्ग में 8 अप्रैल 18 को 220 किलोग्राम भार उठा कर भारत के लिए स्वर्ण पदक जीता.

होनहार वेटलिफ्टर पूनम यादव को सचिन तेंदुलकर ने भी सम्मानित किया है. वेटलिफ्टिंग में भारत को पांचावा गोल्ड मेडल दिलाया तो उसके परिवार में खुशी का माहौल हर कोई अपनी लाडली की इस उपलब्धि पर फूला नहीं समा रहा है. यही वजह है कि आज पूनम के घर पर उसके परिवार के साथ गांव वालों ने भी जमकर जश्न मनाया.परिवार ने पीएम नरेन्द्र मोदी और सीएम योगी आदित्यनाथ जी का भी शुक्रिया अदा किया.

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title: Weightlifter Poonam Yadav won gold medal in the 2018 Commonwealth Games in Gold Coast, Australia
Read all latest Uttar Pradesh News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story यूपी विधान परिषद में बना रहेगा SP का बहुमत, BJP को करना होगा तीन साल का इंतजार