इतने क्रूर क्यों?

Friday, 24 August 2012 10:54 AM

घरेलू नौकरों के बिना हमारी जिंदगी अधूरी है. वो हमारी जिंदगी का एक हिस्सा
हैं. वो हमारे ही घरों में हमारे आसपास रहते हैं लेकिन उन्हें हम प्यार के
बजाए नफरत देते हैं. खाने के बजाए थप्पड़ देते हैं. कपड़ों के बजाए कैद
देते हैं. आखिर उनके साथ ऐसा क्यों करते हैं.

LATEST VIDEO

 

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017