उठाए सवाल

Thursday, 1 August 2013 9:02 AM

नीरा राडिया के फोन रिकॉर्ड के आधार पर कार्रवाई ना करने के लिए सुप्रीम कोर्ट ने आयकर विभाग और सीबीआई की खिंचाई की है. कोर्ट ने आयकर विभाग को कहा है कि वो उस आदेश की मूल कॉपी पेश करे जिसमें उसे फोन टैपिंग के लिए कहा गया था. पूर्व कॉरपोरेट लॉबिस्ट नीरा राडिया की फोन पर हुई बातचीत के कुछ हिस्सों  को परेशान कर देने वाला करार देने के बाद अब सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि जब पांच साल से टेप की रिकॉर्डिंग आयकर विभाग के पास थी तो आयकर विभाग या सीबीआई ने उन मामलों में कोई कार्रवाई क्यों नहीं की जिसमें अपराध या भ्रष्टाचार की बात सामने आती है. कोर्ट ने ये भी पूछा कि जिस अधिकारी ने टेप रिकॉर्ड किए हैं क्या उसने अपने वरिष्ठ अधिकारी को इसके आपराधिक पहलू की जानकारी दी? क्या आयकर विभाग ने सीबीआई को टेप सौंपते वक्त ये बताया कि इन रिकॉर्डिंग्स में की गई बातचीत के आधार पर कोई आपराधिक मामला बनता है? अब इस मामले की अगली सुनवाई 6 अगस्त को होगी.

LATEST VIDEO

 

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017