बड़ा प्रश्न: भगत सिंह मांगे इंसाफ!

Wednesday, 3 February 2016 10:48 PM

भगत सिंह मांगे इंसाफ! पूरी बात में आज हम आपको बताएंगे कि कैसे शहीदे आजम भगत सिंह की मौत के 85 साल बाद एक बार फिर उनको लेकर लड़ाई छिड़ गई है. खास बात ये है कि भगत सिंह को इंसाफ दिलाने की ये जंग उस पाकिस्तान में लड़ी जा रही है जहां से ज्यादातर भारत विरोधी खबरें ही आती हैं. दरअसल भगत सिंह को 1931 में अंग्रेज अफसर सान्डर्स की हत्या करने के इल्जाम में फांसी पर चढ़ा दिया गया था. लेकिन इस केस में अब ऐसी बाते याचिकार्ताओं ने कोर्ट के सामने लाई हैं जिनसे भगत सिंह की फांसी को लेकर तमाम सवाल खड़े हो गए है. ये कहानी कुछ यूं है कि आजादी से पहले 17 दिसंबर 1928 को दो बंदूकधारियों ने लाहौर में जॉन सान्डर्स नाम के अंग्रेज अफसर को गोली मार दी थी. इस केस की जो एफआईआर लाहौर के अनारकली पुलिस स्टेशन में दर्ज कराई गई है उसमें भगत सिंह का नाम नहीं था लेकिन बाद में अंग्रेज सरकार ने भगत सिंह पर सांडर्स की हत्या का इल्जाम लगाकर उन्हें फांसी पर लटका दिया. और अब 85 साल बाद ये पूरा मामला एक बार फिर अदालत के दरवाजे पर है.

LATEST VIDEO

 

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017