रामपाल की गुंडागर्दी, सरकार बेबस क्यों?