दीदी के 'राज' में रेलवे पुलिस की हैवानियत

Thursday, 29 January 2015 3:35 PM

वर्दी में छुपा एक ऐसा चेहरा जिसकी कारगुजारी किसी अपराधी से कम नहीं. सत्ताधीश अक्सर पुलिस को अपराधियों में भय और आम जन में विश्वास के लिए जरूरी बताते हैं. लेकिन ‘वर्दी’ अब सिर्फ गुंडागर्दी का जरिया बनती जा रही है. थाने से लेकर रेलवे तक में कमजोर और मजलुम सिर्फ खाकी के कहर से बचने का उपाय खोजते हैं. आज दीदी के राज में वर्दी वाले ‘गुंडे’ को देखिए.

LATEST VIDEO

 

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017