पूरी खबर: सियाचिन का अमर हिमयोद्धा

Thursday, 11 February 2016 11:33 PM

वो ऐसा जांबाज था कि मौत को भी उससे सामना करने में पसीन छूट गए. छह दिन तक सैकड़ों किलो बर्फ के नीचे दबे रहने के बावजूद जांबाज हनुमंथप्पा ने अपनी जीवटता से मौत को मात दे दी थी लेकिन आज सुबह वो जिंदगी की जंग हार गया. पूरा देश वीर नायक हनुमंथप्पा को भावभीनी श्रद्धांजली दे रहा है. अपनी जिंदगी को देश के लिए दांव पर लगाने वाले हनुमंथप्पा ने अपने पूरे करियर में हमेशा ऐसी जगहों पर ही तैनाती को चुना जहां वो देश के काम आ सके. देशप्रेम से लबरेज हनुमंथप्पा अपने उस गांव से भी बेइंतहा मोहब्बत करता था जिसकी मांटी में वो पला बढ़ा था. रिटायरेंट के बाद हनुमंथप्पा गांव के स्कूल में गरीब बच्चों को पढ़ाना चाहता था. लेकिन कुदरत ने इस शूर वीर को को हमेशा के लिए हमसे जुदा कर दिया. सियाचिन के इस अमर हिमयोद्धा को एबीपी न्यूज भी सलाम करता है.

LATEST VIDEO

 

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017