एक-के बाद-एक विमान हादसे: काठमांडू में लैंड करते ही इंडिगो फ्लाइट लपटों में घिरी, मलेशिया एयरलाइंस का विमान समंदर में क्रैश, 239 यात्रियों में 5 भारतीय भी

By: | Last Updated: Saturday, 8 March 2014 2:57 AM

काठमांडो/बीजिंग/कुआलालम्पुर: दिल्ली से 182 लोगों को लेकर आ रहा इंडिगो एयरलाइन का एक विमान आज काठमांडू हवाई अड्डे पर लैंड करते ही लपटों में घिर गया, लेकिन इस हादसे में किसी यात्री के घायल होने की खबर नहीं है. जबकि, 239 यात्रियों के साथ लापता बीजिंग जा रहा मलेशियाई एयरलाइंस का एक विमान आज वियतनाम के दक्षिणी फू क्यूओक द्वीप पर दुर्घटनाग्रस्त होने के बाद समुद्र में जा गिरा . विमान में 5 भारतीय नागरिक भी सवार थे.

 

काठमांडो एयरपोर्ट पर आज दिल्ली से आ रही इंडिगो फ्लाइट में लैंड करते ही आग लग गई. लपटों को सबसे पहले एयरपोर्ट पर मौजूद इंजीनियरों ने देखा जिसके तुरंत बाद सभी यात्रियों और चालक दल के सदस्यों को आपात दरवाजों से सुरक्षित निकाल लिया गया. अधिकारियों और एयरलाइंस ने जानकारी देते हुए बताया कि आग पर तत्काल काबू पा लिया गया.

 

एयरलाइन ने बताया कि उसकी उड़ान संख्या 6ई031 में 175 यात्री , एक नवजात शिशु और चालक दल के 6 सदस्य सवार थे और इसने दोपहर बाद त्रिभुवन हवाई अड्डे पर सामान्य लैंडिंग की. तभी वहां मौजूद इंजीनियरों ने दाएं ब्रेक असेम्बली से धुआं और आग की लपटें देखीं और उन्होंने सभी यात्रियों तथा चालक दल के सदस्यों को बाहर निकालने का सुझाव दिया.

 

एयरलाइन ने बताया कि 171 यात्रियों को रैम्प से बाहर निकाला गया जबकि बाकी यात्रियों और चालक दल के सदस्यों को आगे की सीढ़ी से बाहर निकाला गया. सभी यात्रियों को 81 सैकेंड में निकाल लिया गया. इंडिगो के सुरक्षा प्रमुख काठमांडो रवाना हो गए हैं. नागर विमानन महानिदेशालय इस मामले की पूर्ण जांच करने की बात की है.

 

उधर, वियतनाम की मीडिया रिपोर्ट में बताया गया है कि 227 यात्रियों और चालक दल के 22 सदस्यों के साथ बोइंग 777. 200 उड़ान एमएच 370 विमान थो छू द्वीप से 250 कलोमीटर दूर हादसे का शिकार हो गया. वियतनामी समाचारपत्र त्यूओई त्रे ने रीयर एडमिरल और वियतनाम के पांचवें नौसेना क्षेत्र के राजनीतिक कमिश्नर नेगो वान फात के हवाले से यह जानकारी दी.

एयरलाइंस द्वारा जारी यात्रियों की नयी सूची में बताया गया है कि विमान में सवार 239 यात्रियों में पांच भारतीय भी हैं . पूर्व में जारी की गयी इस सूची में भारतीय नागरिकों का जिक्र नहीं था.

 

मलेशिया एयरलाइंस ने आज पुष्टि की थी कि उसकी उड़ान संख्या एमएच370 का यहां के सुबांग वायु यातायात नियंत्रण से संपर्क टूट गया है. विमान में दो शिशुओं समेत 239 यात्री सवार हैं.

 

एमएएस द्वारा जारी एक बयान में कहा गया कि बी777-200 विमान ने 8 मार्च 2014 को रात 12.41 मिनट (भारतीय समानुसार रात 10.10 मिनट) पर कुआलालंपुर से उड़ान भरी थी. विमान का रात 2.40 मिनट (भारतीय समयानुसार 12.10 मिनट) पर एटीसी से संपर्क टूट गया.

 

विमान के सुबह 6 बजकर 30 मिनट पर बीजिंग में उतरने की संभावना थी. विमान में चालक दल के 12 सदस्यों समेत 239 यात्री सवार थे. मलेशिया एयरलाइंस ने कहा कि वह अधिकारियों के साथ संपर्क में है जिन्होंने अपने तलाशी एवं बचाव दल को विमान का पता लगाने के लिए सक्रिय कर दिया है.