पाकिस्तान के प्रधानमंत्री की गिरफ्तारी का आदेश

By: | Last Updated: Tuesday, 15 January 2013 4:13 AM

<p xmlns=”http://www.w3.org/1999/xhtml”>
<br />
</p>
<p style=”text-align: justify;”>
<b>इस्लामाबाद: </b>पाकिस्तान
के सुप्रीम कोर्ट ने देश के
मौजूदा प्रधानमंत्री राजा
परवेज़ अशरफ को 24 घंटे के अंदर
गिरफ्तार कर अदालत के सामने
पेश करने का आदेश दिया.
</p>
<p style=”text-align: justify;”>
स्थानीय मीडिया के अनुसार
भ्रष्टाचार के संगीन आरोप की
वजह से कोर्ट ने यह आदेश दिया.
सुप्रीम कोर्ट के मुख्य
न्यायधीश इफ्तिखार चौधरी की
अध्यक्षता में तीन सदस्यीय
बेंच ने यह आदेश दिए.
</p>
<p style=”text-align: justify;”>
सुप्रीम कोर्ट ने
प्रधानमंत्री की गिरफ्तारी
का आदेश मंगलवार की सुबह
रेंटल पावर प्रोजेक्ट में
भ्रष्टाचार के मामले में
दिया. राजा अशरफ इस केस के
मुख्य आरोपी हैं. मौजूदा
प्रधानमंत्री पर यह आरोप तब
लगे थे जब वह यूसुफ रज़ा
गिलानी के मंत्रिमंडल में
बिजली और पानी मंत्री थे.
</p>
<p style=”text-align: justify;”>
अदालत ने इस मामले में 16 लोगों
की गिरफ्तारी के आदेश दिए हैं
जिनमें राजा परवेज़ अशरफ भी
शामिल हैं. शीर्ष अदालत ने
बुधवार की सुबह इन सभी
आरोपियों को अदालत के सामने
पेश करने का आदेश दिया है.
</p>
<p style=”text-align: justify;”>
यह आदेश ऐसे मौके पर आया है जब
देश में राजनीतिक स्थिति
लगातार बदल रही हैं और
तहरीक-ए-मिनहाजुल-कुरान के
प्रमुख ताहिरुल कादरी
इस्लामाबाद में हज़ारों
लोगों के साथ संसद को भंग
करने की मांग को लेकर धरने पर
बैठे हैं.
</p>
<p style=”text-align: justify;”>
याद रहे कि सुप्रीम कोर्ट ने 3
मार्च 2012 को किराए के बिजली
घरों के मुकदमे के फैसले में
तमाम बिजली घरों के समझौते को
ग़ैर कानूनी करार देते हुए उन
समझौतों को फौरी पर खत्म करने
का आदेश दिया था.
</p>
<p style=”text-align: justify;”>
सुप्रीम कोर्ट में अपने
फैसले में कहा कि समझौते करने
वाले लोगों के खिलाफ कानून के
मुताबिक कार्रवाई की जाए.
</p>
<p style=”text-align: justify;”>
फैसले में अदालत ने यह भी कहा
था कि पूर्व बिजली और पानी
मंत्री राजा परवेज़ अशरफ और
वित्त मामलों के सचिव समेत
तमाम सरकारी अधिकारी
संविधान के तहत पारदर्शिता
के दोषी हैं और इसलिए उनपर
भ्रष्टाचार के मुकदमे चलने
चाहिए.
</p>
<p style=”text-align: justify;”>
क्या है मामला?
</p>
<p style=”text-align: justify;”>
राजा परवेज़ अहमद को
पाकिस्तान का प्रधानमंत्री
बने 6 महीने भी नहीं हुए हैं,
लेकिन उन पर गिरफ्तारी की
तलवार लटक गई है.
</p>
<p style=”text-align: justify;”>
रेंटल पावर केस यानी अस्थाई
तौर पर लगाए जा रहे पावर
प्लांट के मामले में
भ्रष्टाचार के गंभीर आरोप
पाकिस्तान के प्रधानमंत्री
पर लगे थे. तब राजा परवेज अशरफ
बिजली और पानी मंत्री हुआ
करते थे.
</p>
<p style=”text-align: justify;”>
साल 2008 में पाकिस्तान में
बिजली का संकट गहरा गया था और
तब सवालों के घेरे में आए
राजा ने रेंटल पावर
प्रोजेक्ट लगवाए. आरोप लगे कि
कम बिजली बनाने वाले इन रेंटल
पावर प्रोजेक्ट में राजा
परवेज़ अशरफ ने पैसे बनाए.
</p>
<p style=”text-align: justify;”>
आरोप ये भी लगा कि भ्रष्टाचार
के इन पैसों से राजा परवेज
अशरफ ने विदेशों में
प्रॉपर्टी बनाई. केस सुप्रीम
कोर्ट तक गया था और पिछले साल
मार्च में पाकिस्तान की
सुप्रीम कोर्ट ने सभी सौदों
को ग़ैरक़ानूनी करार दिया था
और इससे जुड़े लोगों पर
कानूनी कार्रवाई का आदेश
दिया था. जिन सोलह लोगों के
खिलाफ कार्रवाई का आदेश दिया
गया उसमें राजा परवेज़ अहमद
भी थे.
</p>
<p style=”text-align: justify;”>
लेकिन 10 महीनों से नेशनल
अकाउंटेबिलिटी ब्यूरो यानी
नैब सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर
कार्रवाई नहीं कर रहा था. अब
आज सुप्रीम कोर्ट ने नैब के
प्रमुख फैश बुख़ारी के खिलाफ
कोर्ट की अवमानना का नोटिस
थमा दिया और सभी आरोपियों को
गिरफ्तार करने का आदेश दे
दिया है.
</p>
<p style=”text-align: justify;”>
<b>भारत पर असर</b>
</p>
<p style=”text-align: justify;”>
पाकिस्तान के सुप्रीम कोर्ट
के फैसले का असर भारत पर भी
पड़ेगा.
</p>
<p style=”text-align: justify;”>
अगर पीएम गिरफ्तार होते हैं
तो पाकिस्तान में सेना का
प्रभाव बढ़ सकता है जो मौजूदा
हालत में ठीक नहीं होगा. इस
फैसले के बाद एलओसी पर तनाव
और बढ़ सकता है और शांति
वार्ता भी खटाई में पड़ सकती
है.
</p>
<p style=”text-align: justify;”>
<b>संबंधित खबरें:</b>
</p>
<p style=”text-align: justify;”>
<span class=”video-icon”><a
href=”http://abpnews.newsbullet.in/video/world/41909-2013-01-15-10-14-31″>पीएम
की गिरफ्तारी के आदेश</a></span>
</p>
<p class=”video-icon” style=”text-align: justify;”>
<a
href=”http://abpnews.newsbullet.in/video/world/41914-2013-01-15-11-53-06″>कादरी
का सुप्रीम कोर्ट को शाबाशी
</a><br />
</p>
<p xmlns=”http://www.w3.org/1999/xhtml”>
<span class=”video-icon”><a
href=”http://abpnews.newsbullet.in/video/world/41913-2013-01-15-11-49-24″>पीएम
अशरफ के बचने के विकल्प</a></span>
</p>
<p style=”text-align: justify;”>
http://www.youtube.com/watch?v=PxrbmLt6yXQ<br />
</p>

World News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: पाकिस्तान के प्रधानमंत्री की गिरफ्तारी का आदेश
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017