पाकिस्तान से मदद के कारण अधिक घातक है इंडियन मुजाहिदीन: रिपोर्ट

By: | Last Updated: Friday, 3 January 2014 12:32 PM

वाशिंगटन: अमेरिका के एक बौद्धिक संस्थान की नयी रिपोर्ट के अनुसार प्रतिबंधित आतंकवादी संगठन इंडियन मुजाहिदीन पाकिस्तान से मिलने वाले सहयोग के कारण ज्यादा घातक है.

 

वुडरॉ विल्सन इंटरनेशनल सेंटर फॉर स्कॉलर्स की रिपोर्ट ‘जिहादिस्ट वायलेंस: द इंडियन थ्रेट’ में इस बात को रेखांकित किया गया है कि भारत में जिहादी अांदोलन एक आंतरिक सुरक्षा का मुद्दा है जिसमें बाहरी आयाम भी जुड़ा है.

 

सौ पन्नों की रिपोर्ट में कहा गया है, ‘‘भारतीय जिहादी आंदोलन का जन्म आंतरिक कारकों, खासतौर पर सांप्रदायिक समस्याओं और बदले की भावना के नतीजतन हुआ, लेकिन यह पहले से ज्यादा घातक है जिसके लिए पाकिस्तान की सरकार और पाकिस्तान तथा बांग्लादेश के आतंकवादी संगठनों से मिलने वाली बाहरी मदद जिम्मेदार है.’’

 

रिपोर्ट को दक्षिण एशिया के सुरक्षा विशेषज्ञ स्टीफन टेंकल ने लिखा है जिसके मुताबिक आईएम के विकेंद्रीकृत नेटवर्क का फिलहाल पाकिस्तान में स्वच्छंद नेतृत्व है लेकिन यह पाकिस्तान और संयुक्त अरब अमीरात तथा सउदी अरब के बीच गतिविधियां संचालित कर रहा है.

 

रिपोर्ट कहती है, ‘‘बाहरी समर्थन भारतीय उग्रवाद के लिए एक प्रमुख संचालक से ज्यादा उसकी ताकत बढ़ाने वाला है. आईएम को लश्कर-ए-तैयबा से मदद मिलती है लेकिन उसे इसी कमान और नियंत्रण के अधीन नहीं देखा जाना चाहिए. यही बात आईएम को भारत में सक्रिय लश्कर के अन्य सदस्यों और गुटों से अलग करती है.’’

World News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: पाकिस्तान से मदद के कारण अधिक घातक है इंडियन मुजाहिदीन: रिपोर्ट
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017