'भारत के साथ शांति चाहता है पाकिस्तान'

'भारत के साथ शांति चाहता है पाकिस्तान'

By: | Updated: 29 Apr 2014 10:10 PM

मुंबई: पाकिस्तान ने भारत और पाकिस्तान के बीच युद्ध से कुछ हल नहीं मिल पाने की बात करते हुए कहा कि वह भारत के साथ लंबी और हर पैमाने पर बातचीत चाहता है.

 

भारत में पाकिस्तान के हाई-कमिशनर अब्दुल बासित ने कहा,‘‘हमारे प्रधानमंत्री नवाज़ शरीफ के विचार, नीतियां और उनकी समझ बहुत साफ़ है. उनका मानना है कि जब तक भारत के साथ हम शांति नहीं बनाते तब तक हमारी विकास और समृद्धि की इच्छाएँ पूरी नहीं होंगी.’’ उन्होंने कहा कि शांति दोनों ही देशों के हित में है. उन्होंने कहा, ‘‘हमने पहले भी युद्ध लड़े हैं और उनसे कुछ नहीं पाया है. शांति के लिए हम एक लंबी और व्यापक बातचीत चाहेंगे.

 

उन्होंने कहा, ‘‘पहले पाकिस्तान भारत के साथ बातचीत नहीं करना चाहता था. हम चाहते थे कि जम्मू-कश्मीर का मामला पहले हल हो लेकिन ये नहीं हो सका और यदि शर्तें रही तो ऐसा आगे भी नहीं होगा. ’’ बासित ने कहा कि पाकिस्तान ने भारत को रोकने के लिए और अपनी सुरक्षा के खतरे को टालने के लिए चीन के साथ एक सैन्य गठजोड़ किया है. इस तरह चीन और पाकिस्तान अच्छे मित्र हो गए. चीन के साथ हमारे संबंध अच्छे हैं और ये ख़रे उतरे हैं.

 

उन्होंने कहा कि भारत ने जब अपना पहला परमाणु परीक्षण किया था तो पाकिस्तान को चिंता हो गयी थी और इससे इस्लामाबाद को परमाणु क्षमता पर विचार करना पड़ा.

 

बासित ने कहा कि भारत ने 1974 में अपना पहला परमाणु परीक्षण किया और पाकिस्तान सचमुच में इससे चिंतित हुआ था. अपनी सुरक्षा ज़रूरतों पर विचार करते हुए हमने भी परमाणु क्षमता ढूंढना शुरू कर दिया. सबसे ज़्यादा आतंकवादी हमले का दुख झेलने वाले शहर के रूप में मुंबई की याद दिलाए जाने पर बासित ने कहा कि पाकिस्तान खु़द भी आतंकवाद से पीड़ित है. हालांकि उन्होंने आगे कहा कि पाकिस्तान में न्यायपालिका आज़ाद है और मुंबई हमलों के गुनहगा़रों को इंसाफ दिलाया जाएगा, भले ही इसमें थोड़ा वक्त लग जाए.

 

उन्होंने पूछा कि यहां समझौता एक्सप्रेस मुकदमे का क्या हुआ? इसमें 42 पाकिस्तानी मारे गए थे. लेकिन हमें अभी तक कोई फैसला नहीं मिला. किसी को दोषी नहीं ठहराया गया. इन चीज़ों को पूरा होने में समय लगता है.

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest World News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story शहंशाह जायद की तस्वीर बेचने से दुकानदार ने किया मना, मौजूदा किंग मोहम्मद ने की मुलाकात