महिलाओं को हम किस नजर से देखते हैं?

By: | Last Updated: Sunday, 12 January 2014 1:25 PM
महिलाओं को हम किस नजर से देखते हैं?

टोक्यो: महिलाओं को हम किस नजर से देखते हैं? जापान से उठे इस सवाल ने एक विश्वव्यापी बहस को जन्म दे दिया है. महिलावादी संगठन इस बहस में कूद पड़े हैं और महिला अधिकारों के प्रवक्ता अब तल्खी के साथ पूछ रहे हैं कि आखिर हम महिलाओँ को किस नजर से देखते हैं?

 

महिलाओं से जुड़े इस ताजा विवाद की शुरुआत हुई द जैपेनीज सोसाइटी फॉर आर्टीफीशियल इंटेलिजेंस जर्नल नाम की एक मैगजीन के कवर से. इस जापानी मैगजीन के कवर पर एक रोबोट गर्ल को नौकरानी की तरह झाड़ू हाथ में उठाकर घर की सफाई करते दर्शाया गया है.

 

 सबसे पहले जापान की महिलाओं ने इसपर ऐतराज जताया. और सोशन नेटवर्किंग साइट्स के जरिए दुनिया भर में एक नई बहस की शुरुआत हो गई कि आखिर हमारा समाज महिलाओं को किस नजर से देखता है?

 

जापानी मैगजीन के कवर पर एक सर्वेंट रोबोट गर्ल की तस्वीर देखकर जापान की  तभी से उन्हें केवल ‘सेफ सेक्स’ के लिए विकसित करने की बात की जा रही है. एक नए सेक्स ट्वॉय की तरह रोबोट गर्ल का इस्तेमाल करने का आइडिया भी जापान से ही शुरू हुआ और दुनियाभर में चाहनेवालों की पसंद बन गया. हालांकि अब तक कोई प्रोफेशनल  लेकिन इस मुद्दे पर बहस जारी है.

 

सेक्स गर्ल रोबोट के बाद जब दूसरी बार गर्ल रोबोट का कॉन्सेप्ट सामने आया तो घर की नौकरानी की तरह. जापान की महिलाएं पहले ही सेक्स गर्ल रोबोट के कॉन्सेप्ट का विरोध कर रहीं थीं. ऐसे में नौकरानी वाला कॉन्सेप्ट सामने आने पर वो भड़क उठीं.

 

जापान की एक प्रमुख महिला संगठन की प्रमुख ने कहा कि आखिर समाज महिलाओं को सेक्स गर्ल और घर की नौकरानी के नजरिए से ही क्यों देखना चाहता है?  दुनियाभर में हर कारोबारी महिला समाज के इस नजरिए से परेशान है. हद तो ये कि आप गर्ल रोबोट भी विकसित करना चाहते हैं तो वो उसे भी केवल सेक्स और नौकरानी के नजरिये से ही देख रहे हैं. ये घोर आपत्तिजनक है.

 

जापान के एकेडमीशियन्स और सोशल मीडिया एक्सपर्ट्स का भी मानना है कि मैगजीन ने सर्वेंट गर्ल रोबोट की तस्वीर कवर पर छापकर समाज को गलत संदेश दिया है. उधर मैगजीन के एडीटोरियल बोर्ड ने कहा है कि इस तस्वीर का चयन समाज के सम्माननीय सदस्यों द्वारा 100 प्रविष्ठियों के सावधानीपूर्वक चयन के बाद ही किया गया. बहरहाल मैगजीन ने इस तस्वीर पर खेद जताकर विवाद को शांत करने की कोशिश की है. लेकिन फिलहाल विवाद शांत होता नजर नहीं आ रहा.

World News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: महिलाओं को हम किस नजर से देखते हैं?
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017