हाजीपुर में मतदाताओं के बीच 'राम' हमेशा से ही रहा है पहली पसंद

हाजीपुर में मतदाताओं के बीच 'राम' हमेशा से ही रहा है पहली पसंद

By: | Updated: 02 May 2014 06:44 AM

पटना: बिहार के हाजीपुर संसदीय क्षेत्र के मतदाताओं के बीच 'राम' नाम हमेशा से ही पहली पसंद है. वर्ष 1977 के बाद हुए हर लोकसभा चुनाव में हाजीपुर संसदीय क्षेत्र से उसी उम्मीदवार को जीत हासिल हुई है जिसका नाम 'राम' से शुरू होता है. इस बात से फर्क नहीं पड़ता कि यह राम किस राजनीतिक दल से है.

 

मौजूदा हाजीपुर संसदीय क्षेत्र 1952 में सारण सह चंपारण संसदीय क्षेत्र का हिस्सा था. 1957 में यह क्षेत्र अलग से अस्तित्व में आया, लेकिन उस समय इस क्षेत्र का नाम केसरिया था. हाजीपुर संसदीय क्षेत्र वर्ष 1977 में सुरक्षित क्षेत्र बन गया, तब से अब तक हुए चुनावों में यहां के मतदाताओं को 'राम' ही पसंद आए हैं. भले ही यहां के मतदाता अपने जनप्रतिनिधि बदल दिए, नेताओं ने पार्टियां बदल लीं, मगर संयोग ऐसा कि यहां 'राम' का साया बरकरार रहा.

 

वर्ष 1977 में हुए लोकसभा चुनाव में पहली बार रामविलास पासवान ने भारतीय लोकदल से चुनाव लड़ा और विजयी घोषित हुए. इसके बाद रामविलास इस क्षेत्र से वर्ष 1980, 1989, 1996, 1998, 1999 और वर्ष 2004 में हुए आम चुनाव में विजयी हुए. इस क्रम में उन्होंने पार्टियां जरूर बदलीं, लेकिन वह यहां के लोगों की पसंद बने रहे.

 

वर्ष 1984 का लोकसभा चुनाव में भले ही रामविलास हार गए, मगर यहां के लोगों ने उसे ही अपना जनप्रतिनिधि चुना जिनका नाम राम से शुरू होता है. उस चुनाव में कांग्रेस के रामरतन राम विजयी हुए थे.

 

वर्ष 1991 और वर्ष 2009 के चुनाव में भी इस क्षेत्र का संसद में प्रतिनिधित्व करने वाले रामसुंदर दास का नाम भी 'राम' से ही शुरू होता है.

 

16वीं लोकसभा के लिए हो रहे चुनाव में दो 'राम' चुनाव मैदान में भाग्य आजमा रहे हैं. रामसुंदर दास जहां जनता दल (युनाइटेड) के टिकट पर चुनाव मैदान में हैं, वहीं लोक जनशक्ति पार्टी से रामविलास पासवान एक बार फिर हाजीपुर क्षेत्र से चुनावी अखाड़े में हैं. रामसुंदर मुख्यमंत्री भी रहे हैं.

 

उल्लेखनीय है कि हाजीपुर संसदीय क्षेत्र में सात मई को मतदान होना है. इस संसदीय क्षेत्र में हाजीपुर, लालगंज, महुआ, राजापाकर, राघोपुर तथा महनार विधानसभा क्षेत्र शामिल हैं.

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest World News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story तस्वीरों में: इमरान खान ने रचाई तीसरी शादी, जानें तीनों शादियों की बड़ी बातें