एयरएशिया विमान की तलाशी के दौरान संदिग्ध वस्तुएं दिखीं

By: | Last Updated: Monday, 29 December 2014 3:08 PM

जकार्ता/कैनबराः एयरएशिया के लापता विमान की तलाश में जुटे विमानों ने सोमवार को जावा समुद्र में कुछ संदिग्ध वस्तुएं देखी हैं. इस अभियान में कई और देशों के शामिल होने के बाद तलाशी अभियान तेज कर दिया गया है. इंडोनेशिया के उपराष्ट्रपति जूसुफ काल्ला ने एक संवाददाता सम्मेलन के दौरान कहा कि ऑस्ट्रेलिया के निगरानी विमान ओरियन ने नंगका द्वीप के समीप कुछ संदिग्ध वस्तुएं देखी हैं. जहां से विमान का संपर्क टूटा था, वहां से यह जगह 1,120 किलोमीटर की दूरी है.

 

उपराष्ट्रपति ने हालांकि कहा कि वह इस बात की पुष्टि नहीं कर सकते कि वे संदिग्ध वस्तुएं लापता विमान क्यूजेड 8501 का ही हिस्सा हैं.

 

उन्होंने कहा, “उन लोगों ने स्पष्ट नहीं किया है. बचाव व तलाशी दल रपट की पुष्टि करने में लगे हैं.”

 

लापता विमान: ऑस्ट्रेलिया के एयरक्राफ्ट को समुद्र में नजर आया मलबा 

इस बीच, वायु सेना प्रवक्ता हादी तजाहनांतो ने कहा कि इंडोनेशियाई हेलिकॉप्टरों ने बेलिटंग द्वीप से 185 किलोमीटर दूर काफी मात्रा में रिसा हुआ तेल देखा है.

 

उन्होंने कहा, “हम अभी इस बात की पुष्टि करने में सक्षम नहीं हैं कि वह तेल एयरएशिया का है या नहीं.”

 

इससे पहले, इंडोनेशिया के एक अधिकारी ने मीडिया से कहा था कि लापता विमान के बारे में माना जा रहा है कि वह समुद्र में गिरकर डूब गया है.

 

कैनबरा टाइम्स की रपट के अनुसार, जकार्ता की वायुसेना के बेस कमांडर रियर एडमिरल दवी पुत्रांतो ने कहा था कि उन्हें पता चला है कि आस्ट्रेलिया के एक ओरियन विमान ने कैनबरा के नंगका द्वीप के पास कुछ वस्तुएं देखी हैं.

 

ये वस्तुएं केद्रीय कालीमांतन के पास पांगकलां बन से 160 किलोमीटर दक्षिण पश्चिम में दिखी हैं. यह स्थान उस स्थान से 1,120 किलोमीटर दूर है, जहां पर विमान से संपर्क टूटा था.

 

पुत्रांतो ने कहा कि वह इस बारे में सुनिश्चित नहीं हैं कि वस्तुएं एयरएशिया की उड़ान संख्या क्यूजेड8501 वाले विमान से संबंधित हैं, जो रविवार तड़के लापता हो गया था. विमान इंडोनेशियाई शहर सुराबाया से सिंगापुर जा रहा था. विमान में 162 यात्री सवार थे.

 

उल्लेखनीय है कि एयरबस ए320-200 ने इंडोनेशिया के जावा प्रांत में सुरबया से सिंगापुर के लिए उड़ान भरी थी. विमान में 155 यात्री और चालक दल के सात सदस्य सवार थे. विमान का संपर्क उस समय नियंत्रण कक्ष से टूट गया, जब पायलट के अनुरोध पर इसका मार्ग परिवर्तित करने की अनुमति नहीं मिल पाई थी. पायलट ने उड़ान की ऊंचाई 34,000 फीट करने की अनुमति मांगी थी.

 

इंडोनेशिया के सुराबाया शहर से रविवार सुबह 5.20 बजे एयर एशिया के विमान क्यूजेड 8501 ने उड़ान भरी थी, जिसके 42 मिनट बाद उसका संपर्क हवाई यातायात नियंत्रण से टूट गया था. इसे सुबह 8.30 बजे सिंगापुर के चांगी हवाईअड्डे पर उतरना था.

 

विमानन कंपनी के अनुसार, सुराबाया से सिंगापुर के लिए रवाना हुए विमान में 155 इंडोनेशियाई, तीन दक्षिण कोरियाई, एक ब्रिटिश, एक फ्रांसीसी, एक मलेशियाई और एक सिंगापुर का नागरिक सवार था.

 

रविवार को हुए हादसे के बाद इंडोनेशिया के परिवहन मंत्री इग्नेसियस जोनान ने कहा है कि उनका मंत्रालय एयरएशिया के उड़ानों की समीक्षा करेगा.

 

जोनान ने संवाददाता सम्मेलन में कहा, “एयरएशिया इंडोनेशिया के पूरे संचालन की समीक्षा करेंगे, ताकि भविष्य में इसकी सेवा में सुधार हो सके.”

 

जकार्ता पोस्ट में प्रकाशित खबर के अनुसार, मंत्री ने कहा, “हम कई चीजों की समीक्षा करेंगे, जिसमें इसका संचालन भी शामिल होगा, ताकि हम इसकी सुरक्षा में सुधार देख सकें.”

World News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: airasia
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017