भारत के साथ सीमा समझौता को मंजूरी एक कूटनीतिक कामयाबी: हसीना

By: | Last Updated: Friday, 8 May 2015 3:16 AM

ढाका: बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना ने भारतीय संसद में ऐतिहासिक विधेयक के अनुमोदन को ‘‘बहुत बड़ी कूटनीतिक सफलता’’ करार दिया जिसमें दोनों देशों के बीच के 41 साल पुराने सीमा मुद्दों को हल करने के लिए भूमि के आदान-प्रदान का प्रावधान किया गया है.

 

हसीना ने गृहमंत्रालय में वरिष्ठ अधिकारियों की बैठक को संबोधित करते हुए कहा, ‘‘मैं समझती हूं कि यह हमारी बहुत बड़ी कूटनीतिक सफलता है और मैं इस प्रक्रिया में शामिल सभी लोगों का शुक्रिया अदा करती हूं.’’ उन्होंने कहा कि 1971 में बांग्लादेश के निर्माण के बाद देश के संस्थापक एवं उनके पिता बंगबंधु शेख मुजीबुर रहमान ने सबसे पहले समस्या के हल के लिए पहल की. यह 1947 में विभाजन के कारण पैदा हुई समस्या थी.

 

इस बीच, प्रधानमंत्री कार्यालय के एक प्रवक्ता ने पत्रकारों को बताया कि लोकसभा में विधेयक पारित होने के तत्काल बाद प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने हसीना से बात की और बांग्लादेश के अवाम को अपनी शुभकामनाएं दीं.

 

प्रवक्ता ने कहा, ‘‘भारतीय प्रधानमंत्री ने उन्हें फोन किया और बांग्लादेश के अवाम के लिए अपनी शुभकामनाएं दीं.’’ उल्लेखनीय है कि 1974 में तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी और बांग्लादेश के संस्थापक शेख मुजीबुर रहमान के बीच ऐतिहासिक भारत-बांग्लादेश भूमि सीमा संधि हुई थी. लोकसभा ने दुर्लभ सर्वसम्मति का प्रदर्शन करते हुए संविधान :119वां संशोधन: विधेयक पारित कर दिया जिससे संधि को कार्यरूप देने का मार्ग प्रशस्त हो गया.

 

बांग्लादेश ने 1974 की संधि के अनुमोदन के लिए तत्काल अपने संविधान में संशोधन कर दिया था जबकि भारत ने संधि का अनुमोदन नहीं किया था क्योंकि इसमें संविधान संशोधन जरूरी था.

World News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Approval of border deal with India a diplomatic success:Hasina
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: bangladesh sheikh hasina
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017