ऑस्ट्रेलिया ने संसद में बुरका वाली महिलाओं को अलग बिठाने की योजना वापस ली

By: | Last Updated: Monday, 20 October 2014 8:29 AM

मेलबर्न: प्रधानमंत्री टोनी एबोट के हस्तक्षेप के बाद ऑस्ट्रेलिया ने संसद भवन में बुरका पहनकर आने वाली महिलाओं को अलग, शीशे से बने साउंड प्रूफ ‘एन्क्लोज़र’ में बिठाने की अपनी विवादास्पद योजना त्याग दी है. सदन के स्पीकर ब्रोनविन बिशप और सीनेट अध्यक्ष स्टीफन पेरी ने दो अक्तूबर को यह फैसला लिया था. लिबरल सांसद बरनाडी ने भवन में बुरका पहनकर आई महिलाओं को अलग जगह पर बैठाने का अनुरोध किया था.

 

बरनाडी का कहना था कि बुरका जुल्म का प्रतीक है और यह गैर ऑस्ट्रेलियाई है और सुरक्षा कारणों से वह इस पर प्रतिबंध लगवाना चाहते हैं. इससे पहले संसद का कामकाज देखने वाले सरकारी विभाग ने घोषणा की थी कि प्रतिनिधि सभा अथवा सीनेट की खुली लोक दीर्घा में चेहरा ढक कर आने वालों को बैठने की अनुमति नहीं दी जाएगी.

 

इसके स्थान पर उन्हें स्कूली बच्चों के लिए आरक्षित दीर्घाओं के बगल में साउंड प्रूफ शीशे के बने ‘एन्क्लोज़र’ में बिठाने की योजना थी. बहरहाल, संसद की कार्यवाही शुरू होने से पहले संसदीय सेवा विभाग ने एक बयान में कहा है कि बुरका पहनकर आने वालों को संसद भवन की सभी लोक दीर्घाओं में बैठने की अनुमति होगी.

World News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: australia takes back its plan which suggested new sitting place for women in burqa
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: Australia burqa parliament plan
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017