कैंसर के लक्षणों को नजरंदाज न करें

By: | Last Updated: Wednesday, 3 December 2014 12:55 PM

लंदन : लोगों में शायद यह कैंसर का भय ही है कि वे इस बीमारी की संभावित चेतावनी के संकेत को नजरंदाज कर देते हैं, जिसके कारण बाद में उनकी जान पर बन आती है. एक अध्ययन में यह बात सामने आई है.

 

निष्कर्ष के मुताबिक, कुल 1,700 लोगों पर यह अध्ययन किया गया, जिसमें लगभग आधे (53 फीसदी) लोगों ने कहा कि तीन महीने पहले उन्हें कैंसर के कम से कम एक गंभीर लक्षण का अहसास हुआ, लेकिन दुर्भाग्यपूर्ण बात यह है कि उनमें से केवल दो फीसदी लोगों को ही लगा कि यह कैंसर का संभावित लक्षण है.

 

निष्कर्ष के मुताबिक, कैंसर के लक्षणों को लोग बढ़ती उम्र, संक्रमण, गठिया तथा सिस्ट समझकर नजरंदाज कर देते हैं.

 

युनिवर्सिटी कॉलेज ऑफ लंदन में वरिष्ठ शोधार्थी कैटरीना व्हीटेकर ने कहा, “कैंसर के लक्षण सामने आने का मतलब यह नहीं कि वह बीमारी कैंसर ही है. यह कैंसर या दूसरी बीमारियों का लक्षण हो सकता है. लेकिन शुरुआत में ही इसपर ध्यान देना स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद होता है.”

 

व्हीटेकर ने कहा, “यही कारण है कि जब ऐसे लक्षण प्रकट हों, तो उसकी जांच करानी चाहिए, खासकर अगर वे दूर नहीं हो रहे हों तो. लेकिन अगर लोगों को लगता है कि ये लक्षण कैंसर से संबंधित नहीं हैं, तो लोग चिकित्सक से परामर्श लेने में देर करते हैं”

 

यूके कैंसर रिसर्च में शीघ्र निदान के निदेशक सारा हियोम ने कहा, “लक्षण दिखने पर अगर लोग चिकित्सक के पास जाएं, तो अधिकांश कैंसर का पता लगाया जा सकता है.” यह निष्कर्ष पत्रिका ‘पीएलओएस ओएनई’ में प्रकाशित हुआ है.

World News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: cancer_
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: Cancer
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017