अधिकतर तारों के चारों ओर हैं पृथ्वी जैसे ग्रह

By: | Last Updated: Thursday, 5 February 2015 2:13 PM

मेलबर्न: ग्रह विज्ञानियों ने अपनी गणनाओं के जरिए दावा किया है कि हमारे तारामंडल में अधिकतर तारों के आसपास पृथ्वी जैसे अरबों ग्रह हैं.

 

ऑस्ट्रेलियन नेशनल यूनिवर्सिटी के पीएचडी छात्र टिम बोवेयर्ड और सहायक प्रोफेसर चार्ले लाइनवीवर के नेतृत्व में किए गए एक नए शोध ने यह निष्कर्ष 200 साल पुराने एक विचार को उन हजारों बाह्य ग्रहों पर लगाकर निकाला है, जिनकी खोज नासा के केपलर अंतरिक्ष दूरदर्शी ने की थी.

 

उन्होंने पाया कि एक मानक तारे (नक्षत्र) के लगभग दो ग्रह होते हैं. ये ग्रह कथित गोल्डीलॉक्स क्षेत्र में होते हैं. यह क्षेत्र तारे से परे वह क्षेत्र होता है, जहां जीवन के लिए जरूरी जल द्रव की अवस्था में रह सकता है.

 

एएनयू के रिसर्च स्कूल ऑफ एस्ट्रोनॉमी एंड एस्ट्रोफिजीक्स के लाइनवीवर ने कहा, ‘‘जीवन के लिए जरूरी चीजें प्रचूर मात्रा में हैं और अब हम जानते हैं कि रहने लायक पर्यावरण भी पर्याप्त है.’’

 

‘‘हालांकि ब्रह्मांड में इंसानों जैसी बुद्धिमत्ता रखने वाले एलियन (परग्रही जीव) नहीं हैं, जो रेडियो दूरदर्शी और अंतरिक्ष यान बना सकें वर्ना निश्चित तौर पर हमें उनके बारे में कुछ देखने या सुनने को मिल गया होता.’’

World News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Earth-like planets around most stars: study
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: ABP earth planet Star Study
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017