For peace with Indian, Pakistan would welcome US' mediation - भारत संग शांति के लिए अमेरिका की मध्यस्थता का स्वागत: पाकिस्तान

भारत संग शांति के लिए अमेरिका की मध्यस्थता का स्वागत: पाकिस्तान

By: | Updated: 07 Nov 2017 08:55 AM
For peace with Indian, Pakistan would welcome US’ mediation

इस्लामाबाद: पाकिस्तान के विदेश मंत्री ख्वाजा आसिफ ने कहा कि उनका देश भारत के साथ तनाव कम करने के लिए अमेरिका की मध्यस्थता का स्वागत करेगा लेकिन युद्धग्रस्त अफगानिस्तान में नयी दिल्ली को बड़ी भूमिका देने के अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के प्रस्ताव के खिलाफ है.


पाकिस्तान-अमेरिका ट्रैक-2 बातचीत के चौथे दौर के बाद मीडिया से बातचीत करते हुए आसिफ ने दावा किया कि अफगानिस्तान में भारत को बड़ी भूमिका देने से वहां और अराजकता होगी.


उन्होंने कहा कि अमेरिका ने भारत को आश्वस्त किया है कि अफगानिस्तान में भारत की भूमिका सिर्फ आर्थिक सहायता तक सीमित होगी.


उन्होंने कहा कि भारत के साथ अपने संबंधों को सुधारने के लिए पाकिस्तान अमेरिका की मध्यस्थता का स्वागत करता है और शांतिपूर्ण पड़ोस के लिए पाकिस्तान ने हमेशा व्यापक बातचीत पर जोर दिया है.


भारत का रुख रहा है कि कश्मीर मुद्दे के समाधान के लिए किसी तीसरे पक्ष की कोई भूमिका नहीं है. वहीं पाकिस्तान का कहना है कि भारत-पाक संबंधों में कश्मीर ‘मुख्य मुद्दा’ है.

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title: For peace with Indian, Pakistan would welcome US’ mediation
Read all latest World News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story न्यूयार्क के हमलावर ने विस्फोट से पहले फेसबुक पर उड़ाया ट्रंप का मजाक