इस्राइल ने गाजा पर हमले तेज किये

By: | Last Updated: Tuesday, 29 July 2014 12:51 PM

गाजा: गाजा में संक्षिप्त शांति के बाद इस्राइल और हमास के बीच आज संघर्ष तेज हो गया क्योंकि दोनों पक्षों ने संयम बरतने के अंतरराष्ट्रीय आह्वानों को नजरंदाज किया तथा यहूदी देश ने युद्ध के ‘‘दीर्घकालिक’’ होने की चेतावनी दी जिसमें तीन सप्ताह से अधिक समय में 1088 फलस्तीनी और 56 इस्राइली मारे गए थे.

 

इस्राइल ने फलस्तीन की ओर से होने वाले राकेट हमलों के जवाब में गाजा पट्टी पर बमबारी बढ़ा दी और तीन सघन आबादी वाले क्षेत्रों में लोगों को चेतावनी दी कि वे अपने घर खाली कर दें.

 

इस्राइल ने 60 हवाई हमले किये जिसमें गाजा का एकमात्र बिजली संयंत्र क्षतिग्रस्त हो गया. इस्राइल ने गाजा पर नियंत्रण करने वाले समूह हमास से संबंधित स्थलों को भी निशाना बनाया.

 

गाजा में वितरण कंपनी में इंजीनियर नादल तोमन ने कहा, ‘‘एक गोला ईंधन टैंक जबकि दूसरा संयंत्र के भाप इंजन पर गिरा जिससे उसमें आग लग गई.’’ अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय में पढ़ाई कर चुके तोमन ने कहा, ‘‘आग को काबू में करना बहुत मुश्किल था.’’ इस्राइली युद्धक विमानों ने गाजा में हमास के शीर्ष नेता इस्माईल हनिया के घर को भी निशाना बनाया. यह जानकारी हनिया के पुत्र अबेद सलाम हनिया ने देते हुए कहा, ‘‘इस्राइली दुश्मनों ने हमारे घर पर दो बार हमला किया.

कल 10 इस्राइली सैनिक मारे गए थे. इनमें से पांच सैनिक गाजा से एक सीमा पार सुरंग से इस्राइल में प्रवेश करने के प्रयास में मारे गए. इसके साथ ही आठ जुलाई को आपरेशन प्रोटेक्टिव एज शुरू होने के बाद से मारे गए इस्राइली सैनिकों की संख्या बढ़कर 53 हो गई है.

 

इस्राइली प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतान्याहू ने इसे ‘‘एक मुश्किल और कष्टदायक दिन ’’ बताया. उन्होंने कहा कि सेना गाजा में अतिक्रमण तब तक समाप्त नहीं करेगी जब तक वह हमास के उन सुरंगों को नष्ट नहीं कर देती जिसका इस्तेमाल वह गाजा के बाहर के नागरिकों पर हमला करने के लिए करता है. उन्होंने नागरिकों से कहा कि वे एक ‘‘लंबे समय चलने वाले’’ युद्ध के लिए तैयार रहें. संघर्ष में कल गाजा पट्टी में कम से कम 26 फलस्तीनी मारे गए और 241 घायल हो गए क्योंकि इस्राइल ने तटवर्ती क्षेत्र पर हवा, जमीन और समुद्र से बमबारी फिर से शुरू कर दी है.

 

गाजा के स्वास्थ्य मंत्रालय के प्रवक्ता ने बताया कि 22 दिवसीय संघर्ष में कुल 1088 फलस्तीनी मारे गए हैं और 6470 घायल हुए हैं.

 

उन्होंने कहा, ‘‘मारे गए लोगों में 251 बच्चे, 50 वृद्ध शामिल हैं. घायलों में 1980 बच्चे और 259 वृद्ध भी शामिल हैं.’’ संघर्ष ऐसे समय फिर से शुरू हुआ है जबकि संघषर्विराम के लिए काफी अंतरराष्ट्रीय दबाव है तथा मुस्लिमों के त्योहार ईद उल फितर के मौके पर कम से कम तीन दिन संघषर्विराम के लिए दोनों पक्षों को सहमत करने के कई प्रयास विफल हो चुके है.

 

गाजा में कल अल शाती शरणार्थी शिविर स्थित बच्चों के एक मैदान पर हुए हमले में नौ बच्चे मारे गए. इस घटना के लिए दोनों पक्ष एकदूसरे को जिम्मेदार ठहरा रहे हैं.

 

इस्राइल डिफेंस फोर्सेज :आईडीएफ: के एक प्रवक्ता ने कहा विस्फोट तब हुआ जब गाजा विद्रोहियों द्वारा दागा गया राकेट गलती से पार्क में गिर गया. वहीं फलस्तीनी पुलिस और आपात सेवा कर्मियों ने दावा किया कि खेल के मैदान पर इस्राइली मिसाइल गिरी.’’ संयुक्त राष्ट्र महासचिव बान की मून ने कल नागरिक क्षेत्रों पर गोलाबारी करने के लिए दोनों पक्षों की आलोचना की थी और तत्काल गाजा में बिनाशत्र मानवीय संघषर्विराम का आह्वान किया था.

 

 

World News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: gaza
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017