गाजा में इस्राइल ने जमीनी अभियान शुरू किया, मरने वालों की संख्या 265 पहुंची

By: | Last Updated: Friday, 18 July 2014 2:28 PM

गाजा/यरूशलम: इस्राइल ने 10 दिनों से चल रहे संघर्ष को तेज करते हुए पिछले पांच साल में पहली बार आज हमास शासित गाजा पट्टी में तोपों और टैंकों के साथ जमीनी अभियान शुरू किया. वहीं, हवाई हमले में अभी तक 265 फलस्तीनियों के मारे जाने के बावजूद यहूदी राष्ट्र पर चरमपंथियों के रॉकेट हमले नहीं रूके हैं.

 

तोपखानों और हवाई हमलों के सहारे इस्राइली बलों ने बीती रात जमीनी अभियान शुरू किया. इस पर, इस्राइली थल सेना ने कहा है कि इसका उद्देश्य हमास के आतंकी ढांचे को एक गंभीर आघात पहुंचाना है.

 

इस्राइली प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतनयाहू ने कहा कि सेना हमास के सुरंग नेटवर्क को निशाना बना रही है, जिसे वह सिर्फ हवाई हमले से नहीं कर सकती.

 

टैंकों और तोपों की गोलाबारी के सहारे हजारों की संख्या में सैनिक बीती रात गाजा में घुस गए. हमास ने चेतावनी दी है कि इस्राइल को जमीनी घुसपैठ की भारी कीमत चुकानी पड़ेगी. गाजा पर हमास का जून, 2007 से शासन है.

 

इस्राइली सेना ने एक बयान में कहा, ‘‘10 दिनों के हमास के हमले तथा तनाव को कम करने के प्रस्तावों को बार-बार ठुकराए जाने के बाद आईडीएफ ने गाजा पट्टी में जमीनी अभियान शुरू किया है.’’ इस्राइली रक्षा बल (आईडीएफ) ने कहा कि उसका मकसद ‘‘ऐसी स्थिति बनाना है जिसमें इस्राइल के निवासी बिना आतंक के और सुरक्षा के साथ रह सकें.’’ इस्राइली सेना के प्रवक्ता जनरल मोती आलमोज ने गाजा के निवासियों से अपील की है कि जिन इलाकों में सेना अपना अभियान चला रही है वहां से वे चले जाएं. उन्होंने कहा कि जब तक जरूरत होगी तब तक यह अभियान चलेगा.

 

गाजा में बीती रात से हुई गोलाबारी में 24 फलस्तीनी मारे गए हैं जिनमें तीन किशोर और पांच महीने की एक बच्ची शामिल है जिससे 8 जुलाई को इस्राइल द्वारा शुरू किए गए हमलों में मारे गए गाजा के लोगों की संख्या बढ़कर 265 हो गई है. एक इस्राइली सैनिक गाजा पट्टी में मारा गया.

 

इस्राइली हमलों में अब तक 265 फलस्तीनी मारे गए हैं और कम से कम 1,920 लोग घायल हुए हैं. इस्राइली विमानों ने गाजा में 2,000 से अधिक लक्ष्यों को निशाना बनाया.

 

जवाब में हमास ने 1,500 से अधिक रॉकेट दागे हैं जिनमें एक इस्राइली नागरिक मारा गया और चार सैनिक घायल हो गए.

 

दोनों पक्षों के बीच कल मानवीय जरूरतों के लिए पांच घंटे का संघर्ष विराम हुआ था, लेकिन पांच घंटे खत्म होते ही दोनों तरफ से हमले शुरू हो गए.

 

इस्राइल सितम्बर, 2005 में गाजा से अपने सैनिक हटाए थे और आखिरी बार उसने 2009 में वहां बड़ा जमीनी अभियान चलाया था.

 

दोनों के बीच स्थायी संघर्ष विराम पर समझौता कराने में नाकाम रहने के बाद मिस्र ने हमास की आलोचना करते हुए कहा है कि अगर उसने काहिरा की मध्यस्थता वाले प्रस्ताव को स्वीकार कर लिया होता तो बहुत सारे लोगों की जान बच जाती.

 

हमास ने मंगलवार को शुरू होने वाले संघषर्विराम को खारिज कर दिया था और इस्राइली शहरों पर रॉकेट दागना जारी रखा था.

 

मिस्र के विदेश मंत्री सामेह शौकरी ने कहा, ‘‘यदि हमास ने मिस्र के प्रस्ताव को स्वीकार कर लिया होता तो इससे कम से कम 40 फलस्तीनियों की जान बच जाती.’’

 

गाजा में संघर्ष विराम के लिए दबाव बनाने के लिए फलस्तीनी राष्ट्रपति महमूद अब्बास आज तुर्की रवाना होंगे. इस संघर्ष को समाप्त करने को लेकर वार्ता के लिए मिस्र मुख्य स्थल रहा है.

 

इस्राइल ने कल शाम 18,000 सैनिकों को तैनात किया. बीते आठ जुलाई के बाद से वह गाजा के मोर्चे पर 65,000 अतिरिक्त सैनिकों को तैनात कर चुका है.

 

संयुक्त राष्ट्र महासचिव बान की मून ने वैश्विक समुदाय की ओर से संयम की अपील के बावजूद इस्राइल की ओर से जमीनी अभियान शुरू करने पर अफसोस जताया है.

 

मून ने कहा, ‘‘मैं इस्राइल से आग्रह करता हूं कि वह नागरिकों के हताहत होने को रोकने के लिए और प्रयास करे. इस संघर्ष का कोई सैन्य समाधान नहीं हो सकता. यह बात जितना इस्राइल-फलस्तीन पर लागू होती है उतना सीरिया पर भी लागू होती है.’’ हमास के निर्वासित प्रमुख खालिद मिशाल ने कहा कि इस्राइल के जमीनी अभियान की किस्मत में नाकामी लिखी है.

 

उन्होंने कहा, ‘‘इस्राइल जो हवाई और समुद्री हमलों से हासिल नहीं कर पाया वो जमीनी अभियान से भी हासिल नहीं कर पाएगा.’’ जमीनी अभियान शुरू होने के बाद गाजा में पत्रकारों को आगाह किया गया है कि वे सुरक्षित स्थान पर शरण ले लें.

 

कुछ प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि उत्तर-पश्चिम गाजा की सीमा में 10 टैंकों को घुसते होते देखा गया.

 

इस्राइली अधिकारियों का कहना है कि जमीनी अभियान शुरू करने के बाद गाजा की ओर से और रॉकेट दागे गए.

 

इस्राइल की मशहूर समाचार वेबसाइट येनेत ने खबर दी है कि जमीनी अभियान का एक लक्ष्य उन सुरंगों को नष्ट करना है जिनका इस्तेमाल चरमपंथी इस्राइल में घुसने के लिए कर सकते हैं.

World News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: gaza
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Related Stories

स्पेन: दो शहरों में आतंकी हमले, वैन से कुचलकर 13 की मौत, 100 से ज्यादा घायल
स्पेन: दो शहरों में आतंकी हमले, वैन से कुचलकर 13 की मौत, 100 से ज्यादा घायल

बार्सिलोना: स्पेन के दूसरे सबसे बड़े शहर बार्सिलोना में हुए आतंकी हमले में अब तक 13 लोगों की मौत...

स्पेन के बार्सिलोना में आतंकी हमलाः 13 लोगों के मारे जाने की खबर
स्पेन के बार्सिलोना में आतंकी हमलाः 13 लोगों के मारे जाने की खबर

नई दिल्लीः स्पेन के बार्सिलोना में आज एक आतंकी हमले में 13 लोगों के मारे जाने की खबर आई है. इस...

हिजबुल मुजाहिदीन को विदेशी आतंकी संगठन करार देना अमेरिका का नाजायज कदम: पाकिस्तान
हिजबुल मुजाहिदीन को विदेशी आतंकी संगठन करार देना अमेरिका का नाजायज कदम:...

इस्लामाबाद: आतंकी सैयद सलाहुद्दीन को इंटरनेशनल आतंकी घोषित करने के बाद अमेरिका ने कश्मीर में...

अब ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी में पढ़ाई करेंगी मलाला यूसुफजई!
अब ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी में पढ़ाई करेंगी मलाला यूसुफजई!

लंदन: पाकिस्तानी अधिकार कार्यकर्ता मलाला यूसुफजई ने आज ‘ए-लेवल’ रिजल्ट हासिल कर लिया. इसके...

सियरा लियोन में भयानक बाढ़, लैंडस्लाइड से 300 से ज्यादा की मौत की खबर
सियरा लियोन में भयानक बाढ़, लैंडस्लाइड से 300 से ज्यादा की मौत की खबर

फ्रीटाउन: सियरा लियोन की राजधानी फ्रीटाउन में भीषण बाढ़ के कारण 105 बच्चों की मौत हो गई. फ्रीटाउन...

अमेरिका ने हिजबुल मुजाहिदीन को विदेशी आतंकी संगठन घोषित किया
अमेरिका ने हिजबुल मुजाहिदीन को विदेशी आतंकी संगठन घोषित किया

वाशिंगटन: आतंकी सैयद सलाहुद्दीन को इंटरनेशनल आतंकी घोषित करने के करीब दो महीने बाद आज अमेरिका...

नेपाल में बाढ़ का कहर, अब तक 120 लोगों की मौत, 60 लाख लोग प्रभावित
नेपाल में बाढ़ का कहर, अब तक 120 लोगों की मौत, 60 लाख लोग प्रभावित

काठमांडो: नेपाल में लगातार बारिश के चलते आई बाढ़ और लैंडस्लाइड  मरने वालों की संख्या बढ़कर 120 हो...

मोदी को ट्रंप का फोन, 'प्रशांत महासागर क्षेत्र में शांति बढ़ाने पर जताई सहमति'
मोदी को ट्रंप का फोन, 'प्रशांत महासागर क्षेत्र में शांति बढ़ाने पर जताई...

वाशिंगटन: व्हाइट हाउस ने कहा है कि राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और पीएम नरेन्द्र मोदी एक नई...

भारत, चीन एक दूसरे को हरा नहीं सकते: दलाई लामा
भारत, चीन एक दूसरे को हरा नहीं सकते: दलाई लामा

मुंबई: तिब्बती आध्यात्मिक गुरू दलाई लामा ने सोमवार को कहा कि भारत और चीन एक दूसरे को हरा नहीं...

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017