जर्मनविंग्स हादसा : सह-पायलट था बीमार, दुर्घटना वाले दिन लेनी थी छुट्टी

By: | Last Updated: Saturday, 28 March 2015 9:24 AM
Germanwings crash: Co-pilot Lubitz ‘hid illness’

बर्लिन: जर्मनी के डसेलडोर्फ शहर के प्रॉसीक्यूटर ने शुक्रवार को कहा कि फ्रांस की आल्प्स पहाड़ियों में जर्मनविंग्स ए320 यात्री विमान को जानबूझकर दुर्घटनाग्रस्त करने वाला सह-चालक बीमार था और उसे विमान के उड़ान भरने वाले दिन चिकित्सक ने छुट्टी लेने की सलाह दी थी, लेकिन सह-पायलट ने कंपनी से चिकित्सक के परामर्श वाला नोट छिपा लिया था.

 

समाचार एजेंसी एफे के अनुसार, बीमारी के कारण छुट्टी लेने की सलाह वाला नोट सह-पायलट के घर से तलाशी के दौरान बुरी तरह फटी हुई हालत में अन्य दस्तावेजों के साथ मिला. इससे सह-पायलट के मानसिक तौर पर बीमार होने का पता लगता है और इसके लिए उपचार ले रहा था.

 

अभियोजन के सूत्रों ने हालांकि उसके घर से खुदकुशी करने से जुड़ा कोई पत्र या उसकी राजनीतिक या धार्मिक पृष्ठभूमि का संकेत देने वाला कोई दस्तावेज मिलने का खंडन किया. ऐसी खबरें भी आई हैं कि सह-पायलट आंद्रे ल्यूबित्ज ने 2009 में अपना प्रशिक्षण पूरा होने से पहले ही छोड़ दिया था, जिससे ल्यूबित्ज के उस समय भी तनावग्रस्त रहने की संभावनाएं जताई जा रही हैं.

 

लुफ्थांसा के मुख्य कार्यकारी कार्सटेन स्पोहर ने गुरुवार को इसकी पुष्टि की कि ल्यूबित्ज ने अपना प्रशिक्षण लंबे समय तक छोड़ रखा था.

 

ल्यूबित्ज पर बीते मंगलवार को स्पेन के बार्सिलोना से जर्मनी के डसेलडोर्फ को उड़ान भरने वाले यात्री विमान जर्मनविंग्स ए320 को फ्रांस की आल्प्स पहाड़ियों में जानबूझकर क्रैश करने का आरोप है, जिसमें विमान में सवार 144 यात्रियों सहित चालक दल के सभी छह सदस्यों की मौत हो गई.

 

ल्यूबित्ज ने 14 वर्ष की अवस्था में एक स्थानीय विमानन संस्थान में विमान उड़ाने का प्रशिक्षण शुरू किया और 2007 में ब्रेमेन स्थित लुफ्थांसा फ्लाइट ट्रेनिंग स्कूल में दाखिला लिया.

 

इसके बाद ल्यूबित्ज ने 2009 में अपना प्रशिक्षण कुछ महीने बंद रखा, जिसे उसने बाद में फिर से शुरू किया और प्रशिक्षण पूरा करने के बाद 2013 में लुफ्थांसा की किफायती विमानन सह-कंपनी जर्मनविंग्स में नौकरी कर ली.

लुफ्थांसा के एक प्रवक्ता ने शुक्रवार की ही बताया कि ल्यूबित्ज ने शारीरिक एवं मानसिक सारी परीक्षाएं पास कर ली थीं. हालांकि उन्होंने ल्यूबित्ज के चिकित्सकीय आंकड़े उपलब्ध कराने से इनकार कर दिया.

 

इस बीच लुफ्थांसा ने नए निर्देश को लागू करने की घोषणा की है, जिसके तहत उड़ान के दौरान विमान के कॉकपिट में हमेशा दो पायलट मौजूद रहेंगे.

 

जर्मनविंग्स के इस हादसे को देखते हुए न्यूजीलैंड की विमानन कंपनी ‘एयर न्यूजीलैंड’ ने भी इस नए निर्देश को अपने यहां लागू करने की घोषणा की है.

 

जर्मनविंग्स हादसे का रहस्योद्घाटन होने के बाद लुफ्थांसा समूह के अलावा एयर बर्लिन, कोनडोर, ट्यूफ्लाई, नार्वेजियन एयर, ईजीजेट, एयर कनाडा और आइसलैंडएयर जैसी कई वैश्विक विमानन कंपनियां सख्त कॉकपिट नियमों पर पहले ही सहमति दे चुकी हैं, जिसके तहत चालक दल के दो सदस्य कॉकपिट में हमेशा मौजूद रहेंगे.

 

उल्लेखनीय है कि जर्मनविंग्स हादसे में सह-पायलट ल्यूबित्ज ने कॉकपिट से बाहर निकले मुख्य पायलट के अंदर आने के लिए दरवाजा खोलने के अनुरोध पर कोई प्रतिक्रिया नहीं दी और विमान को नीचे की ओर गिरने दिया.

World News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Germanwings crash: Co-pilot Lubitz ‘hid illness’
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: crashed Germanwings crash
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017