जर्मनी में धुर दक्षिणपंथी संगठन ने तीन शरणार्थी केंद्रों पर हमला किया

By: | Last Updated: Saturday, 13 December 2014 12:24 PM
Germany

बर्लिन: जर्मनी के तीन इमारतों पर हमले के लिये एक नया नाजी संगठन संदेह के दायरे में हैं . बवेरिया की इन इमारतों में शरण चाहने वालों को अस्थायी आश्रय दिया जाना था .

 

नुरेमबर्ग के पास वोरा कस्बे में बृहस्पतिवार को हमले से एक पूर्व रेस्तरां, एक फार्म हाउस और एक खाली अपार्टमेंट को काफी नुकसान पहुंचा है. हालांकि इस घटना में कोई भी व्यक्ति घायल नहीं हुआ क्योंकि इमारत खाली थीं.

 

एक इमारत पर स्वास्तिक का चिह्न बना हुआ था और ‘वोरा में कोई शरणार्थी नहीं’ का नारा लिखा हुआ था.

 

पुलिस ने कल बताया कि उन्होंने इमारत के अंदर ज्वलनशील पदार्थ पाए.

 

गौरतलब है कि इस घटना ने 1992 और 1993 के दौरान देशभर में शरणार्थी शिविरों में की गई आगजनी की घटनाओं की याद ताजा कर दी है.

 

बवेरिया के गृहमंत्री जोशीम हरमन ने राज्य में शरणार्थी शिविरों में सुरक्षा उपाय बढ़ाने के आदेश दिए हैं.

 

उन्होंने एक रेडियो साक्षात्कार में कहा, ‘‘स्वास्तिक और दीवारों पर लिखे नारे दक्षिणपंथी चरमपंथियांे के संकेत देते हैं.’’ चांसलर एंजेला मर्केल ने हमले को घृणित कार्य बताते हुए इसकी निंदा की है.

 

बृहस्पतिवार की घटना ऐसे वक्त में हुई है, जब जर्मनी शरणार्थियों के आगमन से निपटने में मशक्कत कर रहा है खासतौर पर इराक और सीरिया से आने वाले शरणार्थियों से.

 

सरकार का अनुमान है कि करीब 95,000 लोगों को साल के प्रथम छह महीने के दौरान शरण दी गई और उनकी संख्या साल के अंत तक दो लाख तक पहुंच सकती है.

World News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Germany
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017