‘यहूदी विरोधी’ गीत के लिए भारतीय मूल के गायक को प्रतियोगिता से हटाया गया

By: | Last Updated: Tuesday, 24 November 2015 4:34 PM
Germany will not send xavier naidoo to eurovision

बर्लिन: भारतीय एवं अफ्रीकी मूल के जर्मन गायक जेवियर नायडू के गाने के बोल के यहूदी विरोधी और समलैंगिकों से भय की भावना से भरे होने की आलोचनाओं के बाद उन्हें 2016 यूरोविजन सौंग कॉन्टेस्ट से निकाल दिया गया है.

 

जर्मनी में नायडू के संगीत एलबम की लाखों कॉपियां बिकी हैं लेकिन 2012 में आए ‘वू सिंड’ (वेयर आर) जैसे गानों की काफी आलोचना की गयी है.

 

बीबीसी ने कल अपनी खबर में बताया कि नस्लवाद विरोधी समूहों ने स्वीडन की राजधानी स्टॉकहोम में होने वाली प्रतियोगिता के लिए नायडू के चयन के बाद गत गुरूवार को शिकायत की थी.

 

सरकारी रेडियो सेवा एआरडी ने ‘बेहतरीन’ गायक के नस्लवादी होने की बात को खारिज कर दिया था.

 

एआरडी के कार्यकारी थॉमस श्रेबर ने कहा, ‘‘यह बात साफ थी कि उनके नामांकन से रूखों का धुव्रीकरण होगा लेकिन हमें नकारात्मक प्रतिक्रिया से हैरानी हुई.’’ उन्होंने कहा कि नायडू पर चर्चा से प्रतियोगिता की छवि को नुकसान पहुंच सकता है.

 

उन्होंने कहा, ‘‘इस कारण नायडू जर्मनी का प्रतिनिधित्व नहीं करेंगे. हम अब जल्द फैसला लेंगे कि यूरोविजन सौंग कांटेस्ट में जर्मनी की प्रवृष्टि कैसी तलाशी जाए.’’

World News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Germany will not send xavier naidoo to eurovision
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017