घाना में एयरटेल का सामाजिक योगदान

By: | Last Updated: Monday, 29 September 2014 3:11 PM
ghana-airtel

अक्रा (घाना): इग्नेशियस बुगी घाना के मध्य क्षेत्र में स्थित सोम न्यामे कोदुर जुनियर हाई स्कूल में आईसीटी शिक्षक हैं. उनके स्कूल में हालांकि कंप्यूटर नहीं है.

 

उन्हें सरकारी वाहन से करीब नौ किलोमीटर दूर एक शहर में अपने बच्चों को धूल भरी सड़क से ले जाना पड़ता है, जहां एक स्कूल में आईसीटी केंद्र है. वह हालांकि बच्चों के जीवन को खतरे में नहीं डालना चाहते हैं और यथासंभव बच्चों को शहर के स्कूल नहीं ले जाते हैं.

 

भारतीय दूरसंचार कंपनी भारती एयरटेल की सहायक इकाई एयरटेल घाना हालांकि अपनी कॉरपोरेट सोशल रिस्पांसिबिलिटी (सीएसआर) कार्यक्रम के तहत इस स्कूल की मदद में आगे आई है.

 

कंपनी स्कूल के आईसीटी केंद्र का जीर्णोद्धार कर रही है और उसमें कंप्यूटर लगा रही है. साथ ही क्षतिग्रस्त सौर पैनल को भी ठीक करवा रही है, ताकि बिजली आपूर्ति बन सके. भारतीय कंपनी ऐसे अनेक कार्यक्रम से अफ्रीका में सामाजिक सहायता का कार्यक्रम चला रही है.

 

एयरटेल घाना एक सालाना टेलीविजन कार्यक्रम ‘टचिंग लाइव्स’ के तहत ऐसे लोगों को सम्मानित कर रही है, जिन्होंने तमाम बाधाओं के बावजूद जीवन में कुछ खास करके दिखाया है या जिन्होंने अपने आस-पास के समाज में बदलाव लाने के लिए महत्वपूर्ण कदम उठाए हैं.

 

कंपनी इस कार्यक्रम के तहत लिंडा बोमा को मदद करेगी. वह दो साल की अवस्था में लकवाग्रस्त हो गई थीं. इसके बावजूद उन्होंने शिक्षा हासिल की, जबकि कई बार शिक्षा के लिए धन जुटाना उनके लिए बड़ी चुनौती बन गया था.

 

कंपनी वियामोस में एक विकलांग शिक्षक एल्विस क्लेटस अफ्रीफा को भी मदद कर रही है. शिक्षक 98 स्कूल विद्यार्थियों को मदद कर रहे हैं. शिक्षक ने बताया कि जब वह छोटे थे तब उनकी मां गुजर गई थीं. कैथोलिक चर्च की मदद से उन्होंने शिक्षा हासिल की. घाना की राजधानी अक्रा में जूते पॉलिश कर उन्होंने अपने स्कूल का शुल्क चुकाया.

 

शिक्षक की सामाजिक गतिविधि को मदद करने के लिए उन्हें एक वाहन खरीदने के लिए ऋण दिया गया है, जिसे टैक्सी के रूप में संचालित कर वह धन कमा सकते हैं और अपनी गतिविधियों के लिए खर्च जुटा सकते हैं. एयरटेल ने कहा कि जिनकी वह मदद करते हैं, उनके नाम का सुझाव कोई भी दे सकता है.

 

एयरटेल के एक अधिकारी ने आईएएनएस से कहा, “कोई एक विद्यालय के नाम का सुझाव दे सकता है. हम उस विद्यालय को पुरस्कृत कर सकते हैं, लेकिन उसके पीछे काम करने वाला कोई होना चाहिए, जिसने तमाम विषमताओं में भी स्कूल के लिए कुछ खास किया हो.”

 

नाम का सुझाव मिलने के बाद एयरटेल टचिंग लाइव की टीम नामित व्यक्ति के समुदाय का दौरा करती है. वहां लोगों से बात करती है और आखिर में उसे टचिंग लाइव स्टूडियो में आमंत्रित करती है, जहां उन्हें पुरस्कृत किया जाता है.

World News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: ghana-airtel
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: ABP World
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017