IND Vs AUS: पिछली हारों का हिसाब बराबर करने उतरेगी टीम इंडिया

By: | Last Updated: Thursday, 26 March 2015 1:15 AM
india vs australia

सिडनीः अब से कुछ घंटे बाद विश्व कप में होने वाला है महामुकाबला. सिडनी में सेमीफाइनल में भारत और ऑस्ट्रेलिया की भिड़ंत होनी है. दोनों टीमों की तैयारियां पूरी हैं. चार बार का चैम्पियन ऑस्ट्रेलिया जब जारी आईसीसी विश्व कप के सेमीफाइनल में गुरुवार को सिडनी क्रिकेट मैदान (एससीजी) में मौजूदा चैम्पियन भारत से भिड़ेगा तो उसके ऊपर सबसे बड़ा दबाव अपने होम ग्राउंड में खेलने और प्रशंसकों की उम्मीदों पर खरा उतरने का होगा. आखिरी बार 1992 में जब ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड में विश्व कप आयोजित हुए थे तो कंगारू टीम सेमीफाइनल तक का सफर तय नहीं कर सकी थी. इस बार सह-मेजबान न्यूजीलैंड फाइनल में पहुंच चुका है और ऐसे में यहां कंगारू प्रशंसक भी अपनी टीम से कुछ ऐसे ही प्रदर्शन की उम्मीद करेंगे.

 

बहरहाल, ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ भारत का हाल में टेस्ट और ट्राई सीरीज में प्रदर्शन महेंद्र सिंह धोनी की टीम के लिए दबाव का मुख्य कारण होगा. हाल के टेस्ट सीरीज में भारत को 0-2 से हार का सामना करना पड़ा था. साथ ही ट्राई सीरीज में भी भारतीय टीम कोई मैच नहीं जीत सकी.

 

विश्व कप शुरू होने के बाद हालांकि भारतीय टीम ने जरूर शानदार वापसी की है और अब तक अपराजित रही है. भारतीय टीम ने इस सफर में पाकिस्तान और दक्षिण अफ्रीका जैसी बड़ी टीमों को मात दी. साथ ही क्वार्टर फाइनल में बांग्लादेश को हराया.

 

भारत के पास लंबा बल्लेबाजी क्रम है. सलामी बल्लेबाज शिखर धवन इस टूर्नामेंट में दो तथा रोहित शर्मा, विराट कोहली और सुरेश रैना एक-एक शकत जड़ चुके हैं.

 

भारतीय टीम का कमजोर पक्ष मानी जा रही गेंदबाजी भी अभी शानदार लय में है. मोहम्मद शमी (17) इस विश्व कप में सर्वाधिक विकेट हासिल करने वाले गेंदबाजों की सूची में तीसरे पायदान पर हैं. उमेश यादव, मोहित शर्मा और रविचंद्रन अश्विन भी टूर्नामेंट में अहम भूमिका निभाते नजर आए.

 

दूसरी ओर, ऑस्ट्रेलिया को बल्लेबाजी में डेविड वार्नर, ग्लेन मैक्सवेल सहित एरॉन फिंच आदि से उम्मीदें होंगी. तीनों अब तक एक-एक शतक इस टूर्नामेंट में लगा चुके हैं. साथ ही स्टीवन स्मिथ और माइकल क्लार्क भी अहम भूमिका निभा सकते हैं.

 

ऑस्ट्रेलियाई टीम में एक बदलाव की उम्मीद की जा रही है तेज गेंदबाज जोस हाजेलवुड की जगह पैट कंमिस को शामिल किया जा सकता है. हाजेलवुड ने हालांकि क्वार्टर फाइनल में पाकिस्तान के खिलाफ चार विकेट हासिल किए थे. ऐसे में उन्हें हटाने का फैसला कठिन होगा.

 

पुराने रिकॉर्ड को देखें तो ऑस्ट्रेलिया कभी भी विश्व कप के सेमीफाइनल में पराजित नहीं हुआ है. वैसे, एक दिलचस्प आंकड़ा यह भी है कि 1992 विश्व कप के बाद से हर बार कोई न कोई एशियाई टीम जरूर टूर्नामेंट के फाइनल में पहुंची है.

 

आखिरी बार विश्व कप में दोनों टीमें चार साल पहले भिड़ी थी और 2011 में अहमदाबाद में हुए उस क्वार्टर फाइनल मुकाबले में भारत विजयी रहा था और फिर विश्व चैम्पियन बन कर उभरा.

 

टीम (संभावित) :

 

भारत : शिखर धवन, रोहित शर्मा, विराट कोहली, अजिंक्य रहाणे, सुरेश रैना, महेंद्र सिंह धौनी (विकेटकीपर/कप्तान), रवींद्र जडेजा, रविचंद्रन अश्विन, मोहित शर्मा, मोहम्मद समी, उमेश यादव, स्टुअर्ट बिन्नी.

 

ऑस्ट्रेलिया : डेविड वार्नर, एरॉन फिंच, स्टीवन स्मिथ, माइकल क्लार्क (कप्तान), शेन वाटसन, ग्लेन मैक्सवेल, ब्रैड हैडिन (विकेटकीपर), जेम्स फॉल्कनर, मिशेन जानसन, मिशेल स्टार्क, जोस हाजेलवुड, पैट कमिंस.

World News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: india vs australia
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017