India’s Dalveer Bhandari re-elected to ICJ after Britain pulls out Of Race | संयुक्त राष्ट्र में भारत की बड़ी जीत, दलबीर भंडारी लगातार दूसरी बार ICJ में जज बने

संयुक्त राष्ट्र में भारत की बड़ी जीत, दलवीर भंडारी ICJ में लगातार दूसरी बार जज बने

अंतरराष्ट्रीय कोर्ट ऑफ जस्टिस में जिस वक्त कुलभूषण जाधव की फांसी को लेकर सुनवाई चल रही थी उस वक्त दलवीर भंडारी ही जज थे.

By: | Updated: 21 Nov 2017 02:16 PM
India’s Dalveer Bhandari re-elected to ICJ after Britain pulls out Of Race

नई दिल्ली: संयुक्त राष्ट्र में भारत को बड़ी जीत मिली है. भारत के दलवीर भंडारी लगातार दूसरी बार अंतरराष्ट्रीय कोर्ट ऑफ जस्टिस में जज बन गए हैं. दलवीर भंडारी का मुकाबला ब्रिटेन के क्रिस्टोफर ग्रीनवुड से था लेकिन आखिरी दौर में ब्रिटेन ने नाम वापस ले लिया, बल्कि यूं कहें कि ब्रिटेन को हार देखते हुए नाम वापस लेने के लिए मजबूर होना पड़ा.


दरअसल शुरुआती ग्यारह राउंड में दलवीर भंडारी संयुक्त राष्ट्र महासभा की वोटिंग में ग्रीनवुड पर भारी बढ़त बनाए हुए थे लेकिन सुरक्षा परिषद में ग्रीनवुड बाजी मार जाते थे. लेकिन आखिर में ब्रिटेन ने माना कि इससे समय खराब हो रहा है औऱ नाम वापस ले लिया.आपको बता दें कि दलवीर भंडारी को 183 वोट मिले जबकि उन्हें सुरक्षा परिषद के सभी 15 वोट मिले.


आपको बता दें कि अंतरराष्ट्रीय कोर्ट ऑफ जस्टिस में 15 जज होते हैं जिनका कार्यकाल 9 साल का होता है. हर तीसरे साल 5 नए जज इसमें चुने जाते हैं, दूसरे जज दूसरी बार चुने जा सकते हैं. इसलिए जस्टिस भंडारी जस्टिस ग्रीनवुड का मुकाबला हो रहा है.


विदेश मंत्री ने ट्वीट कर दी बधाई
अंतरराष्ट्रीय कोर्ट ऑफ जस्टिस में दलवीर भंडारी की जीत को बड़ी कूटनीतिक जीत माना जा रहा है. विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने भी इस मौके पर बधाई दी है. उन्होंने ट्वीट किया, ''वंदे मातरम, भारत ने अंतरराष्ट्रीय कोर्ट ऑफ जस्टिस का चुनाव जीता. जय हिन्द.''


अपनी हार पर ब्रिटेन ने क्या कहा?
हमने निष्कर्ष निकाला है कि बार बार वोटिंग से संयुक्त राष्ट्र महासभा और सुरक्षा परिषद का महत्वपूर्ण समय बर्बाद करना ठीक नहीं है. निश्चित रूप से हम निराश हैं लेकिन 6 मजबूत उम्मीदवारों के बीच कड़ा मुकाबला था. हम नहीं जीते लेकिन हमारे करीबी भारत की जीत से हम खुश हैं. हम संयुक्त राष्ट्र और दुनिया में हर जगह भारत को सहयोग करेंगे.

कौन हैं दलवीर भंडारी?
दलवीर भंडारी आईसीजे में दूसरी बार जज जुने जाने वाले भारतीय हैं. 2012 में पहली बार वो आईसीजे के लिए चुने गए थे. राजस्थान के जोधपुर के रहने वाले हें, वे सुप्रीम कोर्ट में भी रह चुके हैं. कुलभूषण जाधव का मामला जब अंतर्राष्ट्रीय कोर्ट पहुंचा था तब दलवीर भंडारी का नाम सुर्खियों में आया था. साल 2014 में उन्हें पद्मभूषण सम्मान ने नवाजा गया.

दलवीर भंडारी से जुड़े अहम मामले?
दलवीर भंडारी ने कई अहम मामलों में महत्वपूर्ण जिम्मेदारी निभाई. कुलभूषण जाधव मामले में मनावाधिकार की बात कहकर फांसी पर रोक लगवाई थी. हालांकि ये सीधे तौर पर नहीं कहा जा सकता है लेकिन फिर भी आईसीजे में भारतीय प्रतिनिधित्व से कुलभूषण जाधव को राहत मिली थी. इसके अवाला टेरर फंडिंग केस, समुद्री विवाद केस में भी अहम भूमिका निभाई.

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title: India’s Dalveer Bhandari re-elected to ICJ after Britain pulls out Of Race
Read all latest World News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story पाकिस्तान- चर्च में प्रार्थना के दौरान आत्मघाती हमला, आठ की मौत, 44 घायल