इराक: ISIS के प्रमुख बगदादी का पहला वीडियो आया, सरकार ने बताया फर्जी

By: | Last Updated: Sunday, 6 July 2014 2:17 AM

नई दिल्ली: मौत की अफवाह के बीच इराक में आतंक मचानेवाले संगठन आईएसआईएस का मुखिया अबु बकर अल-बगदादी पहली बार दुनिया के सामने आया है. एबीपी न्यूज़ इस वीडियो के सही होने की स्वतंत्र पुष्टि नहीं कर सकता. बगदादी का यह वीडियो शनिवार को इंटरनेट पर पोस्ट किया गया.

 

इराक की नुरी अल मालिकी सरकार ने वीडियो के फर्जी होने का दावा किया है.

 

आईएसआईएस का मुखिया अबु बकर अल-बगदादी इस वीडियो में इराक की किसी मस्जिद में धर्मिक संदेश देते हुए दिखाया गया है. काली पगड़ी और लबादा पहने बगदादी ने अपने इस संदेश के जरिए दुनिया भर के मुस्लमानों को उसका हुक्म मानने को कहा है.

 

इस्लामी खिलाफत की घोषणा करने वाले ‘अल दौलतुल इस्लामिया’ या ‘इस्लामिक स्टेट’ ने शनिवार को सोशल मीडिया पर जारी एक वीडियो में कथित रूप से तमाम मुसलमानों से कहा कि वे समूह के नेता अबु बक्र अल-बगदादी के हुक्म मानें.

 

गत 29 जून को सीरिया और इराक की ‘‘खिलाफत’’ का ऐलान करने वाले बगदादी ने कल मोसुल में अपने ‘खुतबे’ (धर्मसंदेश) में अपील की.

 

काली पगड़ी और लबादा पहने बगदादी ने कहा, ‘‘मैं वली (नेता) हूं जो आपकी सदारत कर रहा है. हालांकि मैं आप सब में बेहतरीन नहीं हूं, इसलिए अगर आप देखें कि मैं सही हूं, मेरी मदद करें.’’ उन्होंने कहा, ‘‘अगर आप देखें कि मैं गलत हूं, मुझे सलाह दें और मुझे सही रास्ते पर लाएं, और जब तक मैं खुदा के हुक्म मानता हूं आप मेरा मानें.’’ एएफपी बगदादी को कथित रूप से दिखाने वाले इस वीडियो के सही होने की तत्काल पुष्टि नहीं कर सकी है. अभी तक बगदादी की बस दो ज्ञात तस्वीरें हैं.

 

इस्लामी आंदोलनों के विशेषज्ञ ऐमन अल-तमीमी के अनुसार इस वीडियो में बगदादी पहली बार आधिकारिक रूप से सामने आया है. यह संभव है कि वह 2008 के एक वीडियो में किसी अन्य नाम से सामने आया हो.

 

बगदादी ने कहा, ‘‘अल्लाह ने जिहाद और इस्तकलाल (सब्र) के लंबे साल के बाद आप के मुजाहिद भाइयों को जीत दी है..सो उन्होंने खिलाफत का ऐलान किया है और खलीफा चुना है.’’ उसने मस्जिद के मिंबर (प्रवचन-मंच) से लोगों को संबोधित करते हुए कहा, ‘‘यह मुसलमानों का फर्ज है जो सदियों से छूटा हुआ था.’’

 

कौन है बगदादी?

ISIS का मुखिया है 1971 में जन्मा अबू बकर अल बगदादी जो 2003 से लगातार अमेरिकी सेना के खिलाफ जंग छेड़े हुए है. बगदादी एक बेहद चालाक कमांडर और रणनीतिकार है.

 

सूत्रों के मुताबिक ISIS के 15 हज़ार लड़ाकों में बड़ी तादाद पश्चिमी मूल से आए लड़ाकों की है. ISIS के इन लड़ाकों में फिलहाल ब्रिटेन, फ्रांस, जर्मनी और अमेरिका जैसे मुल्कों से आए चरमपंथी भी शामिल हैं.

 

मार्च 2013 में सीरिया के रक्का शहर पर कब्ज़े के बाद पश्चिमी देशों से आये 80 फीसदी लड़ाके इसमें शामिल हो गए. सीरिया में मिली कामयाबी से अबू बकर अल बगदादी के हौसले इतने बुलंद हो गए कि उसने इराक की तरफ बढ़ना शुरू कर दिया.

 

इराक के फल्लूजा में कब्ज़े के बाद  ISIS ने रमादी के कुछ इलाकों पर कब्ज़ा जमाया. और फिर अचानक मोसुल पर कब्जा करके खलबली मचा दी.

 

जानकारों की मानें तो ISIS धीरे-धीरे अलक़ायदा से भी बड़ा और खतरनाक संगठन बनता जा रहा है. ISISकी बढ़ती ताकत के बीच बगदादी और अलक़ायदा में आपसी होड़ और तनाव की शुरुआत भी पहले ही हो चुकी है.

 

माना जाता है कि अलक़ायदा के मुखिया यमन अल ज़वाहिरी ने बगदादी से कहा था कि वो अपना सारा ध्यान इराक पर लगाए और सीरिया को पूरी तरह अल कायदा के एक गुट अल नुसरा के लिए छोड़ दे. मगर बगदादी ने अल ज़वाहिरी की बात नहीं मानी. उसने सीरिया में हमला जारी रखते हुए और रक्का शहर पर कब्ज़ा कर लिया. इस दौरान ISIS और अलक़ायदा के बीच कई बार खूनी लड़ाइयां भी हुईं.

 

पिछले कुछ दिनों में अबू बकर अल बगदादी ने जिस तेज़ी के साथ इराक में अपनी ताकत बढ़ाई है उसने सारी दुनिया को चौंका दिया है और अब तो बगदादी के लड़ाके बगदाद से सिर्फ चंद मील की दूरी पर रह गए हैं. अमेरिका ने जब से बगदाद में अपने सैनिक भेजने से इनकार किया है, ISISके हौसले और भी बुलंद हो गए हैं.

 

यह भी पढ़ें-

जानें: इराक पर हमला करने वाले ISIL कौन हैं?  

इराक में कैसे बिगड़े हालात? क्या चाहता है आतंकवादी संगठन ISIL? 

इराक में फंसे तेलंगाना के लोगों के लिए हेल्पलाइन बनाई गई

बगदाद के करीब पहुंचे चरमपंथी, मोसुल समेत कई अहम शहरों पर किया कब्जा 

World News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: iraq_baghdadi_video
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: Iraq iraq violence
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017