ISIS चरमपंथ की छिटपुट घटनाओं पर उठाये गये उचित कदम: अधिकारी

By: | Last Updated: Wednesday, 11 February 2015 4:54 PM

नई दिल्ली: एक शीर्ष सुरक्षा अधिकारी ने आतंकवादी समूह आईएसआईएस द्वारा भारतीय युवाओं को कट्टरपंथ की ओर धकेलने के खतरे को आज अधिक तवज्जो नहीं देते हुए कहा कि इस तरह की कुछ ‘‘छिटपुट’’ घटनाएं हुई है तथा सुरक्षा एजेंसियों ने उन पर उचित कदम उठाये हैं.

 

राष्ट्रीय तकनीकी अनुसंधान संगठन (एनटीआरओ) के विशेष कार्य अधिकारी तथा खुफिया एजेंसी रॉ के पूर्व प्रमुख आलोक जोशी ने कहा कि आईएसआईएस विचारधारा का कोई व्यापक प्रभाव नहीं हुआ है. छिटपुट घटनाएं कट्टरपंथी संगठन के प्रति मुख्यत: जिज्ञासा के चलते हुइ’.

 

जोशी ने कहा, ‘‘मैं इस बिन्दु से असहमति जताता हूं कि आईएसआईएस के प्रति :भारत में: व्यापक खिंचाव है..हमारी इससे सहमति नहीं है. अब मैं वहां :रॉ में: नहीं हूं लेकिन जब मैं वहां था तो निश्चित तौर पर, हमें यह नहीं लगा कि (आतंकवादी समूह) उस प्रकार का प्रसार है, जितना की आम तौर पर लोग मानकर चल रहे हैं. इस तरह की बात बिल्कुल नहीं है.’’

 

उन्होंने यह बात नेशनल सिक्योरिटी गार्ड (एनएसजी) द्वारा आईईडी से निबटने की रणनीतियों के बारे में विचार विमर्श के लिए बुलाये गये एक सम्मेलन से इतर संवाददाताओं से बातचीत में कही.

 

जोशी रॉ प्रमुख के रूप में 31 दिसंबर को सेवानिवृत्त हुए हैं और उनका एक अप्रैल को एनटीआरओ अध्यक्ष बनना लगभग तय माना जा रहा है. उन्होंने कहा कि ऐसे लोग जो इस्लामिक स्टेट आफ इराक एंड सीरिया :आईएसआईएस: की विचारधारा में संभवत: भटक गये थे, उसके बाद से ध्यान रखा गया है.

World News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: ISIS_TERRORISM
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: ABP isis terror
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017