इजरायल ने सैन्य अभियान तेज होने को लेकर फलस्तीनियों को गाजा छोड़ने की दी चेतावनी

By: | Last Updated: Thursday, 17 July 2014 1:11 AM
israel_gaza_warning

नई दिल्ली: इजरायल ने गाजा में जमीनी अभियान चलाने की आज चेतावनी दी और एक लाख फलीस्तीनियों से अपने घर बार छोड़कर अन्यत्र जाने को कहा क्योंकि इसने सैन्य कार्रवाई के नौवें दिन अपने हवाई हमले तेज कर दिए हैं. इन हमलों में 220 जानें जा चुकी हैं.

 

बमबारी के बीच हजारों की संख्या में लोग अपने घर बार छोड़ चुके हैं, वे संयुक्त राष्ट्र की इमारतों में शरण ले रहे हैं जिनमें से कुछ को इजरायली बमवषर्क विमानों ने क्षतिग्रस्त कर दिया है.

 

इजरायली रक्षा बलों ने आज कहा कि उसने गाजा में तीन इलाकों के बाशिंदों को अपना घर खाली करने को कहा है क्योंकि इसकी योजना हमास और अन्य आतंकवादी संगठनों पर हवाई हमले करने की है.

 

इजरायली रक्षा बलों ने बताया कि बेत लाहिया, शुजाइया और जेतोन में 1,00,000 लोगों को आगाह करने के लिए उसने रिकार्ड किए हुए संदेशों, मोबाइल संदेशों और पर्चे का इस्तेमाल किया. सेना के रेडियो में बताया गया है कि इजरायल की सुरक्षा कैबिनेट ने गाजा में हमास के सुरंगों को नष्ट करने की योजना को मंजूरी दे दी है. कैबिनेट ने एक सीमित जमीनी आक्रमण की संभावना पर भी चर्चा की जिसमें शुरूआत में शहरों में दाखिल होना शामिल नहीं है.

 

पूर्व राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार गियोअरा इलैंड ने सेना के रेडियो को बताया, ‘‘इजरायल के पास अभियान को जारी रखने और तेज करने के अलावा कोई विकल्प नहीं है.’’ उन्होंने कहा, ‘‘असमंजस जमीनी अभियान को लेकर है. ऐसा लगता है कि हम इस दिशा में बढ़ रहे हैं क्योंकि हवाई हमलों की अपनी सीमा है.’’ सीमावर्ती क्षेत्रों में हमास के रॉकेट हमले जारी हैं और गाजा की इमारतों पर इजरायली हवाई हमलों का प्रकोप जारी है. इसमें मरने वालों की संख्या बढ़ गयी है.

 

संयुक्त राष्ट्र के अनुसार पिछले नौ दिन से चल रहे इजरायल के ‘ऑपरेशन प्रोटेक्टिव एज’ अभियान में गाजा में मारे गये फलस्तीनियों की संख्या 220 पहुंच गयी है जिनमें अधिकतर आम नागरिक हैं. फलस्तीनी स्वास्थ्य अधिकारियों के मुताबिक कम से कम 1560 लोग घायल हो गये. मरने वालों में 47 बच्चे भी शामिल हैं.

 

आज चार बच्चे सहित कम से कम 25 लोग मारे गए. ये लोग गाजा शहर के पश्चिम में एक बीच पर हुए हवाई हमले में मारे गए

 

इजरायली सेना ने आरोप लगाया कि हमास गाजा के लोगों को बंधक बना रहा है और घरों, अस्पतालों तथा स्कूलों जैसी जगहों का इस्तेमाल हथियार छिपाने के लिए कर रहा है. इससे पहले कल मिस्र की मध्यस्थता में हुए संघर्ष विराम से भी सफलता नहीं मिली और हमास उग्रवादियों तथा अन्य समूहों ने इजरायल पर रॉकेट हमले बंद नहीं किये.

 

इजरायल ने करीब छह घंटे तक हवाई हमले रोककर संघर्ष विराम के मिस्र के प्रस्ताव को स्वीकार कर लिया. लेकिन हमास ने इसे नामंजूर कर दिया और इजरायली सरजमीं पर रॉकेट दागता रहा.

 

इजरायली प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतनयाहू ने कल कहा था, ‘‘हमास ने हमले जारी रखने का फैसला किया है और वह अपने इस फैसले की कीमत चुकाएगा.’’ इजरायल में कल ऐरे क्रासिंग पर मोर्टार हमले में लोगों के हताहत होने की पहली घटना सामने आई थी. इजरायल ने कहा कि गाजा में रात भर हुए हमलों में हमास उग्रवादियों की मौत हो गयी.

World News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: israel_gaza_warning
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017