‘कोई आंतरिक दबाव इस्राइल को उसकी शक्ति के इस्तेमाल से रोक नहीं पाएगा’

By: | Last Updated: Saturday, 12 July 2014 9:05 AM
israel_pm_statement_on_gaza

नई दिल्ली: अंतरराष्ट्रीय दबावों के आगे न झुकने का संकल्प लेते हुए इस्राइल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने कहा है कि इस्राइल हमास के शासन वाली गाजा पट्टी से उसकी जमीन पर होने वाले रॉकेट हमलों को रोकने के लिए अपनी पूरी ताकत लगा देगा.

 

नेतन्याहू का यह बयान शुक्रवार को अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा द्वारा इस्राइली प्रधानमंत्री के साथ बात किए जाने के बावजूद आया है. ओबामा ने इस्राइली प्रधानमंत्री से हमास के साथ युद्धविराम पर बातचीत करने  का प्रस्ताव देते हुए कहा था कि इस संकट के और बढ़ने का खतरा है.

 

नेतन्याहू ने संवाददाताओं को बताया, ‘‘कोई भी अंतरराष्ट्रीय दबाव हमें हमारी पूरी ताकत का इस्तेमाल करने से नहीं रोक सकता.’’ ओबामा ने नेतन्याहू के साथ टेलीफोन पर बातचीत में इस्राइल के आत्मरक्षा के अधिकार को वाशिंगटन की ओर से समर्थन की दोबारा पुष्टि की थी. इसके साथ ही उन्होंने गाजा स्थित आतंकियों के साथ एक युद्धविराम में मध्यस्थता के लिए मदद की पेशकश भी की थी.

 

इस्राइली जेट विमानों ने कल चौथे दिन भी गाजा पट्टी पर बमबारी की. इन हमलों में 13 फलस्तीनियों की मौत से मृतकों की कुल संख्या 105 पहुंच गई. आतंकी हमले शुरू होने के बाद से पहली बार यहूदी देश को लेबनान से रॉकेट हमलों का शिकार बनाया गया.

 

 नेतन्याहू ने सब्बाथ पूर्व इबादत के दिन से पहले अपने संबोधन में कहा, ‘‘इस्राइली जनता जानती है कि मेरा पहला ध्यान शांति की बहाली पर है. मैं इस लक्ष्य को हासिल करने के लिए जरूरी हर चीज करूंगा.’’

 

 जब उनसे पूछा गया कि क्या वे हवाई हमलों के चार दिन बाद जमीनी हमले पर विचार कर रहे हैं तो इस्राइल के प्रधानमंत्री ने कहा, ‘‘हम सभी संभावनाओं पर गौर कर रहे हैं और सभी संभावनाओं के लिए तैयारी कर रहे हैं.’’ इसी बीच इस्राइल रक्षा बलों के चीफ ऑफ स्टाफ बेनी गांट्ज़ ने कहा है कि सेना जमीनी हमले के लिए तैयार है और वह बस राजनैतिक नेतृत्व से निर्देशों का इंतजार कर रही है.

 

गांट्ज् ने अर्धसैन्य बलों के प्रशिक्षण शिविर के दौरे के दौरान कहा, ‘‘कोई भी चीज हमें आगे बढ़ने से रोक नहीं रही. आईडीएफ जमीनी हमले के लिए राजनैतिक निर्देशों का इंतजार कर रही है.’’ आईडीएफ के चीफ ऑफ स्टाफ ने जोर देकर कहा, ‘‘गाजा में आतंकी इस बात को समझ रहे हैं कि उन्होंने एक बड़ी गलती की है.

 

 चार दिन में हम समझदारी के साथ अपने आक्रामक साधनों का इस्तेमाल यह ध्यान में रखते हुए करते रहे हैं कि वहां कुछ नागरिक हैं, जिन्हें हमास ने बंधक बना लिया है.’’ इस संघषर्पूर्ण स्थिति के लिए हमास को जिम्मेदार ठहराते हुए इस्राइल ने यह कहना जारी रखा कि शांति से ही शांति मिलेगी.

 

गांट्ज़ ने कहा, ‘‘गाजा धीरे-धीरे बर्बादी के सागर में डूब रहा है.’’

World News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: israel_pm_statement_on_gaza
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: gaza israel Obama
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017