दो साल बाद मिली भारतीय इंजीनियर की मदद करने वाली पाकिस्तानी पत्रकार

दो साल बाद मिली भारतीय इंजीनियर की मदद करने वाली पाकिस्तानी पत्रकार

पाकिस्तानी महिला पत्रकार जिनका दो वर्ष पहले एक भारतीय इंजीनियर के मामले की छानबीन करते समय कथित अपहरण हो गया था, उनको रिहा करा लिया गया है.

By: | Updated: 21 Oct 2017 10:42 AM

सौजन्य: TWITTER

लाहौर: पाकिस्तानी महिला पत्रकार जिनका दो वर्ष पहले एक भारतीय इंजीनियर के मामले की छानबीन करते समय कथित अपहरण हो गया था, उनको रिहा करा लिया गया है.

‘डेली नई खबर’ और ‘मेट्रो न्यूज टीवी चैनल’ की पत्रकार जीनत शहजादी 19 अगस्त 2015 को लापता हो गई थी. घर से कार्यालय जाते समय कुछ अज्ञात लोगों ने कथित तौर पर उनका अपहरण कर लिया था. ऐसा माना जा रहा है कि जीनत (26) को ‘जबरन गायब’ किया गया था. जीनत अपहरण से पहले भारतीय नागरिक हामिद अंसारी के मामले पर काम कर रही थी. अंसारी 2012 नवंबर को लापता हो गया था.

‘कमिशन ऑफ इन्क्वायरी ऑन इन्फोर्स्ड डिसअपीयरेंस’ (सीआईईडी) के अध्यक्ष जस्टिस (सेवानिवृत्त) जावेद इकबाल ने कल शाम बताया कि पाकिस्तान-अफगानिस्तान की सीमा पर एक इलाके से गुरुवार रात जीनत को रिहा करा लिया गया है.

इकबाल ने कहा, ‘‘गैर सरकारी तत्वों और सरकार विरोधी एंजेसियों ने उनका अपहरण कर लिया था और उन्हें उनकी गिरफ्त से छुड़ा लिया गया है.’’ उन्होंने बताया कि बलूचिस्तान और खैबर-पख्तुनख्वा प्रांत के कबायलियों ने उनको रिहा कराने में अहम भूमिका निभाई.

मानवाधिकार कार्यकर्ता बीना सरवर ने कहा, ‘‘जीनत शहजादी को आज लाहौर में उनके परिवार से मिलवा दिया गया और हम उनकी सुरक्षित रिहाई से खुश हैं.’’

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest World News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story जाधव की पत्नी, मां के वीजा आवेदनों पर ‘कार्यवाही’ कर रहा है पाक